पीतल के आड़ में सोना ही सोना, समुद्र से तस्करी का नया मार्ग

गुजरात के रास्ते दुबई से मुंबई
110 किलो सोना पकड़ा गया
2 करोड़ कैश भी बरामद
7 धराए

कस्टम विभाग एवं अन्य जांच एजेंसियों के तमाम प्रयासों के बावजूद मुंबई में सोने की तस्करी बढ़ती ही जा रही है। ताजा मामले में डीआरआई (राजस्व खुफिया निदेशालय) मुंबई के डोंगरी और जवेरी बाजार इलाके से 135 किलो सोना जब्त किया है। यह सोना दुबई से समुद्र के रास्ते गुजरात लाया गया था। गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर पीतल का कबाड बोल कर इसे उतारा गया और फिर मुंबई भेज दिया गया।ड़ीआरआई ने इस मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार भी किया है। आरोपियों के पास से लगभग 35 करोड़ रुपए के सोने के साथ 2 करोड़ रुपए भी बरामद हुए हैं, जो कि जांच एजेंसियों को मिली इस साल की सबसे बड़ी सफलता बताई जा रही है।
बता दें कि मुंबई:राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने दावा किया है कि उसने लगभग 110 किलोग्राम सोना जब्त करके इस मामले में सात लोगों की गिरफ्तार किया है। सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए डीआरआई ने डोंगरी इलाके में दो वाहनों में छिपाकर रखे गए 75 किलोग्राम तस्करी के सोने को जब्त कर लिया और इस मामले में अब्दुल अहद जारोदारवाला, शेख अब्दुल अहद और शोएब कारोदारवाला को हिरासत में लिया। शोएब और अब्दुल अहद काारोदरवाला ने कथित तौर पर स्वीकार किया कि उन्हें निसार अलियार नाम के एक आदमी से कुल 200 किलोग्राम से अधिक तस्करी का सोना मिला था। इन्होंने बताया कि दोनों ने दलाली पर थोक बाजार में तस्करी का सोना बेचा और उनके ग्राहकों में से एक राजू उर्फ मनोज जैन थे, जिन्होंने पूर्व में उनसे लगभग 100 किलोग्राम तस्करी का सोना खरीदा था। इस मामले में अकिल फ्रूटवाला और हैप्पी धाकड़ नाम के व्यक्तियों की संलिप्तता भी सामने आई। निसार ने दुबई से भारत में 200 किलो सोने के तस्करी की बात स्वीकार की है। इन सातों लोगों को गिरफ्तार करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।