पुजारा ने बचाई लाज

भारतीय क्रिकेट टीम ने चेतेश्वर पुजारा (१२३) के शानदार शतक की बदौलत ऑस्ट्रेलिया के साथ एडिलेड ओवल मैदान पर पहले टेस्ट के पहले दिन गुरुवार का खेल खत्म होने तक नौ विकेट पर २५० रनों का सम्माजनक स्कोर खड़ा कर लिया। हिंदुस्थान ने एक समय ४१ रनों पर ही अपने चार शुरुआती बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए थे लेकिन पुजारा ने रोहित शर्मा (३७), ऋषभ पंत (२५) और रविचंद्रन अश्विन (२५) के साथ मिलकर न सिर्फ भारतीय पारी को मुश्किल से निकाला बल्कि सम्मानजनक स्कोर की ओर अग्रसर किया। एक तरह से पुजारा ने कल की पारी में टीम इंडिया की लाज बचाई।
हिंदुस्थान ने भोजनकाल तक चार विकेट पर ५६ रन बनाए थे जबकि चायकाल तक उसका स्कोर छह विकेट पर १४६ रन था। पुजारा के २५० के कुल योग पर रन आउट होने के साथ दिन के खेल की समाप्ति हुई। मोहम्मद शमी छह रन बनाकर नाबाद लौटे। पुजारा ने अपनी २४६ गेंदों की पारी में सात चौके और दो छक्के लगाए। यह पुजारा के करियर का १६वां शतक है। टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही।
लोकेश राहुल (२), मुरली विजय (११) और विराट कोहली (३) के विकेट १९ रनों पर गिर गए। अजिंक्य रहाणे (१३) ने थोड़ा संयम दिखाया लेकिन वे भी ४१ के कुल योग पर आउट हुए। इसके बाद पुजारा ने रोहित के साथ स्कोर को ८६ तक पहुंचाया। रोहित इसी योग पर आउट हुए। रोहित ने अपनी ६१ गेंदों की पारी में दो चौके और तीन छक्के लगाए। रोहित के जाने के बाद युवा बल्लेबाज पंत ने पुजारा का अच्छा साथ दिया लेकिन ३८ गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाने के बाद वे १२७ के कुल योग पर आउट हुए।