पुलिस को टल्ली टेंशन, बारवालों को देना होगा पियक्कड़ों पर अटेंशन

थर्टी फर्स्ट का जश्न मनाने की तैयारी शुरू हो चुकी है। हमेशा की तरह इस बार भी पुलिस विभाग का टेंशन बढ़ गया है। खासकर उन लोगों ने पुलिसवालों को खासा टेंशन दे रखा है, जो नववर्ष के स्वागत में शराब पीकर टुन हो जाते हैं। इन पियक्कड़ों के टेंशन के चलते पुलिस विभाग अभी से ऐसे लोगों पर नजर रखने की तैयारी में जुट गया है। हालांकि नववर्ष का जश्न मनानेवाले लोगों ने अभी से होटल, रिसॉर्ट व रेस्टोरेंट्स की बुकिंग शुरू कर दी है। भारी संख्या में होटलों और बारों में थर्टी फर्स्ट की पार्टियों के आयोजन की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। पार्टी हो और लोग शराब पीकर टल्ली न हों, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। आए दिन महामार्गों पर शराब पीकर गाड़ी चलानेवाले हादसों के शिकार हो जाते हैं। ऐसे में थर्टी फर्स्ट की पार्टियों के बाद टल्ली होनेवाले लोगों का टेंशन ठाणे पुलिस को अभी से सताने लगा है इसलिए ठाणे पुलिस और आरटीओ विभाग ने मिलकर टल्ली लोगों की सुरक्षा को लेकर एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। जिसके तहत ठाणे पुलिस और आरटीओ ने सभी होटलों और बारवालों को नोटिस देना शुरू कर दिया है। इस नोटिस में साफ-साफ लिखा है कि यदि कोई ग्राहक नशे में धुत होकर टल्ली हो जाता है तो उस नागरिक को घर पहुंचाने की जिम्मेदारी होटल व बारवालों को उठानी होगी।
बता दें कि थर्टी फर्स्ट की पार्टियों को शुरू होने में केवल १२ दिन ही शेष रह गए हैं। आमतौर पर थर्टी फर्स्ट की पार्टियों में शराब और अन्य नशीले पदार्थों का सेवन कर लोग टल्ली हो जाते हैं। टल्ली होने के बाद लोगों को इतना भी होश नहीं रहता कि वे ठीक तरह से अपने घर पहुंच पाएं।
फिर भी कई अड़ियल लोग नशे में धुत होकर गाड़ी चलाते हैं। महामार्गों पर होनेवाले हादसे गवाह हैं कि हर १० में से ६ हादसे शराबी चालकों के कारण ही होते है। इस बार भी थर्टी फर्स्ट की रात लोगों का शराब पीकर टल्ली होना तय है। ऐसे में लोग दुर्घटनाओं के शिकार न हो जाएं इसलिए ठाणे महामार्ग पुलिस, आरटीओ और ट्रैफिक पुलिस ने मिलकर कमर कस ली है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यदि होटल और बारवालों द्वारा पुलिस के आदेश का पालन नहीं किया जाता तो उन पर भी उचित कार्रवाई की जाएगी।
ठाणे जिला महामार्ग पुलिस अधीक्षक रूपाली अंबुरे ने बताया कि जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में तय किया गया है कि नशे में धुत नागरिकों को उनके घर पहुंचाने की जिम्मेदारी बारवालों की होगी। फिलहाल हम किन होटलों व बारवालों को नोटिस भेजना है इसकी सूची तैयार कर रहे हैं, जिसके बाद सभी होटलों और बारवालों को जल्द से जल्द यह नोटिस दे दी जाएगी। ठाणे उप प्रादेशिक परिवहन अधिकारी श्याम लोही ने बताया कि थर्टी फर्स्ट के दौरान भारी संख्या में लोग शराब और अन्य नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं। ऐसे में लोग दुर्घटनाओं के शिकार न हों इसीलिए यह निर्णय लिया गया है। उनका कहना है कि इस योजना के चलते दुर्घटनाओं की संख्या में कमी आएगी।

बेवड़ों की हो रही होम डिलिवरी
थर्टी फर्स्ट जैसे-जैसे करीब आ रहा है, बेवड़ों की टेंशन बढ़ती ही जा रही है। शराब पीकर गाड़ी चलानेवालों के खिलाफ पुलिस और यातायात विभाग कड़ाई से निपट रहा है। उनका सीधे चालान कर दिया जाता है या उन्हें कारावास भी भोगना प़ड़ता है। थर्टी फर्स्ट पर हुड़दंगियों की भी कमी नहीं होती, ऐसे में कई बीयर बारवालों ने बेवड़े ग्राहकों की ‘होम डिलिवरी’ शुरू कर दी है। एक से ज्यादा लोग हैं तो उनकी गाड़ी के लिए ड्राइवर की व्यवस्था भी होटलवाले कर दे रहे हैं, वहीं अगर एक या दो ग्राहक हों तो उनके लिए बारवालों ने नया रास्ता ढूंढ़ लिया है। ऐसे लोगों को होटल की डिलिवरी बाइक पर बैठाकर उनके घर छोड़ दिया जाता है। ‘होम डिलिवरी’ वाली बाइक पर बेवड़ों की ‘होम डिलिवरी’ बोरीवली-पश्चिम के एक बार में देखने को मिली है। हालांकि बारवालों ने इसे अनौपचारिक बताते हुए कहा है कि पुराने ग्राहकों के प्रति थोड़ी सहानुभूति जताते हुए, उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखकर ऐसा किया जाता है।