पुलिस पर गोलीबारी मामला: अफ्रीकी ड्रग तस्करों के तीन साथी धराए 

मुंबई व आसपास के इलाकों में अवैध रूप से रहनेवाले अफ्रीकी नागरिक देश की सुरक्षा के लिए खतरा बनते जा रहे हैं। ड्रग्स तस्करी, एटीएम एवं अन्य ऑनलाइन फ्रॉड में इनकी संलिप्तता के मामले लगातार सामने आते रहे हैं। मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की एंटी नारकोटिक्स सेल (एएनसी) के अधिकारियों पर जानलेवा हमला करने के बाद अफ्रीकी ड्रग्स तस्करों ने पिछले दिनों भायखला पुलिस की टीम पर फायरिंग भी की थी।  उक्त मामले में फरार ५ ड्रग्स तस्करों को भायखला पुलिस ने कल ड्रग्स और हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। 
बता दें कि १५ दिसंबर को भायखला पुलिस की हद में बी इ रोड स्थित निर्मल पार्क बिल्डिंग के पास अफ्रीकी ड्रग्स तस्करों ने गिरफ्तारी से बचने के लिए पुलिस की गश्ती टीम पर गोली चलाई थी। उस वक्त पुलिस ने लगभग दो किलोमीटर तक पीछा करने के बाद ७ आरोपियों को फिल्मी स्टाइल में दौड़ा कर ड्रग्स और हथियारों के साथ गिरफ्तार किया था उनके पास से २१ लाख रुपए की ड्रग्स , १२ मोबाइल एक रिवॉल्वर ४१ हजार रुपए और १२ मोबाइल पुलिस ने बरामद किया था लेकिन उस वक्त उनके कुछ साथी भागने में कामयाब हुए थे। उक्त मामले में फरार ओबिता इनासेंट इनामडी तथा ओझाननडी लिजना इफानी को भायखला पुलिस ने भायखला स्टेशन के पास से दबोच लिया। पुलिस को उनके पास से २५ ग्राम एमडी १४ ग्राम कोकीन ४ मोबाइल और १२०० रुपए पुलिस को मिला। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक दिनेश कदम  मार्गदर्शन में ओबिता और इफानी से पूछताछ के बाद पुलिस ने मीरारोड स्थित कृष्णा रेसीडेंसी नामक इमारत में छापामारी की और दिवा ओलिवर नकी, चिडिबेरे माइकल ओकोलो तथा माइकल चुकुवोमा उचेजिंबा नामक तीन अन्य ड्रग्स तस्करों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से १० ज़िंदा कारतूस, वीजा रहित ७ पासपोर्ट,५५ ग्राम कोकीन, ३,८०,००० रुपए,२०० अमेरिकी डॉलर, १५ मोबाइल फोन, २ चाकू तथा अन्य रासायनिक पावडर और उपकरण पुलिस को मिले हैं।