पैराशूट बना पनौती!

मुरुड बीच पर पैरासेलिंग करते वक्त डोर टूटने के चलते उसमें सवार पिता-पुत्र दोनों ही नीचे गिर पड़े। इस अप्रिय घटना में १५ वर्षीय वेदांत पवार की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसके पिता गणेश पवार को गंभीर चाटें आई हैं। मतलब पवार परिवार के लिए पैराशूट पनौती बन गया। पिता को समीप के एक प्राथमिक उपचार केंद्र में एडमिट किया गया है। मुरुड पुलिस ने पैरासेलिंग चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
बता दें कि पुणे के कसबा रोड का रहनेवाला पवार परिवार वीकेंड की छुट्टी मनाने के लिए मुरुड पहुंचा था। पवार परिवार मुरुड के समुद्री किनारों पर सैर-सपाटे व आनंद के लिए गया था। मुरुड बीच पर पैरासेलिंग का लुत्फ उठाने के लिए पिता व पुत्र गए थे। पैरासेलिंग ने काफी ऊंची उड़ान ली थी। कुछ ही समय बाद अचानक से पैराशूट में लगी डोर टूट गई और दोनों ही काफी ऊंचाई से सीधे जमीन पर गिरे। वेदांत की मौके पर ही मौत ही गई, जिसके बाद उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए अलीबाग के जिला अस्पताल में भेजा गया है। पुलिस ने पैरासेलिंग चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है लेकिन इस घटना से सवाल यह उठ रहा है कि समुद्र किनारे मनोरंजन के लिए उपलब्ध उक्त खेल कितने सुरक्षित हैं?