" /> प्रतिभा को मौका!

प्रतिभा को मौका!

सुरेश रैना ने टीम इंडिया के लिए अपना बेस्ट प्रदर्शन महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में किया था। हालांकि कई लोग को शायद ही ये बात पता हो कि उन्होंने राहुल द्रविड़ की कप्तानी में टीम इंडिया के लिए डेब्यू किया था। उन्हें अपनी प्रतिभा को दिखाने का पहला मौका राहुल द्रविड़ की कप्तानी में ही मिला था। वहीं रैना के शुरुआती दिनों में द्रविड़ ने उन्हें काफी सपोर्ट किया था। हाल ही में एक चैट के दौरान सुरेश रैना ने राहुल द्रविड़ के बारे में बात की और बताया कि वो कितने जीनियस कप्तान थे। रैना ने एक घटना का जिक्र किया जो साल २००६ में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैच के दौरान घटी थी। इसके बारे में बताते हुए रैना ने कहा कि उस मैच के दौरान द्रविड़ ने पाकिस्तान के विकेटकीपर-बल्लेबाज कामरान अकमल को आउट करने के लिए बेहतरीन प्लान बनाया था। रैना ने बताया कि कैसे राहुल द्रविड़ ने अकमल का विकेट लेने के लिए एक अजीब सा दिखने वाला फील्डिंग सेट किया था। रैना ने बताया कि पाकिस्तान के खिलाफ वो कैच मैंने प्वाइंट पर लिया था। द्रविड़ हमारे कप्तान थे और इरफान पठान गेंदबाजी कर रहे थे और उनका सामना कामरान अकमल कर रहे थे। उस वक्त ये नियम था कि वैâचिंग फील्डर को १५ यार्ड के अंदर रखा जा सकता था। इस वजह से राहुल भाई ने मुझसे कहा कि क्या तुम प्वाइंट पर खड़े होओगे। मैंने उनसे कहा कि हां, कृपया बताइए कहां पर खड़े होना है। फिर उन्होंने कहा कि आगे की तरफ झुक जाओ और एक कैच लेने के लिए तैयार हो जाओ।