प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में कुर्सियां रहीं खाली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों मंगलवार को मेट्रो का भूमिपूजन किया गया। इस अवसर पर भयंकर भीड़ होगी, ऐसा कयास भाजपा व प्रशासन नें लगाया था लेकिन घोर निराशा तब हाथ लगी जब सभा में कुर्सियां खाली दिखीं।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए भाजपा द्वारा जगह-जगह पोस्टर-बैनर लगाए गए थे, जिसके जबाब में यात्रियों ने कल्याण स्टेशन के बाहर गाजर के तोरण व काले झंडे लगाकर अपना विरोध प्रदर्शित किया। मोदी की सभा में भीड़ जुटाने के लिए भाजपा द्वारा एड़ी-चोटी का जोर लगाने के बाद भी जब अनेक कुर्सियां खाली दिखीं तो सभी बगलें झांकते नजर आए। खाली कुर्सियां कल्याण में खूब चर्चा में रहीं जो यह प्रदर्शित करती हैं कि मोदी की लहर ठंडी पड़ गई है।
बता दें कि नरेंद्र मोदी के कल्याण के फड़के मैदान में आने से आसपास रहनेवाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना उठाना पड़ा। आसपास की बिल्डिंगों के घरों में पुलिस ने तलाशी ली कि कुछ संदिग्ध वस्तु न हो, वहीं आसपास में लगे बैरिकेड्स की वजह से लोगों को अपने घरों में जाने के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। परिसर के श्मशान घाट में अंतिम यात्रा पर रोक लगा दिए जाने से शहर के नाराज लोगों ने मोदी की अंतिम यात्रा निकाली। नरेंद्र मोदी की सभा समाप्त होने के बाद सभा में मौजूद लोगों को बाहर निकलने का रास्ता नहीं समझ में आने से साफ प्रतीत हो रहा था कि सभा में लोग कहीं बाहर से बुलाए गए थे।