प्रभाग समितियों पर युति का परचम

मीरा-भाइंदर मनपा के सभी ६ प्रभाग समितियों के सभापति पद पर शिवसेना-भाजपा युति के सदस्य निर्वाचित हुए। मंगलवार को कोकण विभाग के अतिरिक्त आयुक्त राजेंद्र क्षीरसागर के नेतृत्व में यह चुनाव प्रक्रिया संपन्न हुई। प्रभाग समिति सभापति पद के लिए हुए इस चुनाव में प्रभाग समिति-१ के सभापति पद पर विनोद काशीनाथ म्हात्रे (भाजपा), प्रभाग-२ दिपाली आनंदराव मोकाशी (भाजपा), प्रभाग-३ गणेश गजानन भोईर (भाजपा), प्रभाग-४ तारा विनायक घरत (शिवसेना), प्रभाग-५ मनोज रामनारायन दुबे (भाजपा), प्रभाग-६ वीणा सूर्यकांत भोईर (भाजपा) निर्वाचित हुई। प्रभाग-१ से ४ के सभी सभापति का चयन निर्विरोध हुआ। वहीं प्रभाग-५ से कांग्रेस की अहमद साराह अकरम और प्रभाग-६ से कांग्रेस के ही राजीव मेहरा ने भी नामांकन भरा था। इन दोनों प्रभागों में भी शिवसेना-भाजपा के सदस्यों की संख्या अधिक होने के कारण इन दोनों को पराजय का मुंह देखना पड़ा।
ज्ञात हो कि सभी ६ प्रभाग समितियों के सभापतियों का कार्यकाल ३१ मार्च को समाप्त हो गया था। लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण इनका चयन नहीं हो सका था। मीरा-भाइंदर मनपा में कुल सदस्यों की संख्या ९५ है, जिसमें भाजपा के ६१ सदस्यों के साथ पूर्ण बहुमत की सत्ता है। लोकसभा चुनाव पूर्व स्थानीय स्तर पर शिवसेना-भाजपा की युति होने के बाद शिवसेना के २२ सदस्यों को भी मनपा की सत्ता में शामिल किया गया है। जिससे प्रभाग ४ के सभापति पद पर शिवसेना की तारा घरत सर्वसम्मति से निर्विरोध निर्वाचित हुईं