प्रोटेक्शन कांट्रेक्ट की रंजिश, खान के मर्डर के पीछे ‘डी’ का ब्रेन

 

सांताक्रुज (पूर्व) में कल ५२ वर्षीय अब्दुल्लाह खान नामक शख्स की धारदार हथियारों से हत्या कर दी गई। कालीना इलाके में एसआरए योजना के तहत चल रहे निर्माण कार्य स्थल पर प्रोटेक्शन के ठेके को लेकर चल रही वर्चस्व की जंग में अब्दुल्लाह खान को अपनी जान गंवानी पड़ी, ऐसा स्थानीय सूत्रों का कहना है। साथ ही इस हत्याकांड में अंतरराष्ट्रीय माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर यानी ‘डी’ का हाथ होने की आशंका भी जताई जा रही है। कहा जा रहा है कि हत्यारों ने दाऊद की बहन हसीना पारकर उर्फ हसीना आपा के एक करीबी रिश्तेदार के इशारे पर इस वारदात को अंजाम दिया है।
बता दें कि सांताक्रुज (पूर्व) के कालीना स्थित शास्त्रीनगर इलाके में एसआरए के तहत झोपड़ों के पुनर्विकास का काम किया जा रहा है। पहले इस साइट पर देखरेख यानी प्रोटेक्शन का काम कलाम (बदला हुआ नाम) देखा करता था, जो कि ‘डी’ का रिश्तेदार बताया जाता है लेकिन भवन निर्माण कार्य कर रहे बिल्डर ने बाद में कलाम को हटाकर प्रोटेक्शन का काम अब्दुल्लाह खान को सौंप दिया। इससे एक तरफ कलाम की मोटी कमाई बंद हो गई तो वहीं दूसरी तरफ वह खुद को अपमानित भी महसूस करने लगा। नतीजतन कलाम तथा अब्दुल्लाह खान के बीच विवाद शुरू हो गया। कल दोपहर में ढाई बजे के करीब कुछ लोगों ने अब्दुल्लाह पर अचानक हमला कर दिया। इस हमले में घायल अब्दुल्लाह को अस्पताल में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। हत्यारे कलाम के लोग हो सकते हैं ऐसी आशंका जताई जा रही है। फिलहाल सीसीटीवी फुटेज की जांच की मदद से वाकोला पुलिस मामले की जांच में जुटी है।