फलों का स्वाद हुआ कड़वा,  पड़ी सूखे की मार  कीमतें बढ़ी

नई मुंबई के एपीएमसी मार्केट में फलों की आवक कम होने से फल के भाव आसमान छू रहे हैं। पपीता, तरबूज, अनानास तथा अनार की इन दिनों बाजार में अत्यंत कम आवक के कारण फल के भाव में वृद्धि होने की बात कही जा रही है। सबसे महंगा फल अनानस होल-सेल मार्केट में ५० से ६० रुपए प्रति किलो बेचे जा रहे हैं। एपीएमसी बाजार के फल व्यापारी संजय पानसरे ने बताया कि उत्तर तथा पश्चिम महाराष्ट्र के अधिकांश जगहों पर इस वर्ष सूखे का असर होने के कारण किसान हैरान-परेशान हैं। पानीवाले फलों की आवक बाजार में कम होने से फलों के दाम में उछाल आया है। गौरतलब हो कि कल से रमजान शुरू हो गया है। रमजान के पवित्र माह में रोजा रखनेवाले लोगों को रोजा छोड़ते समय पपीता, अनानास, तरबूज, अनार जैसे फलों की मांग अधिक होती है। इस बार के रमजान में फलों को लेकर जेब अधिक कटने की संभावना से नकारा नहीं जा सकता। जानकारी के अनुसार पिछले वर्ष इन दिनों में प्रत्येक दिन बाजार में कलिंगर की ७५ से ९० गाड़ियां आती थीं, इस वर्ष मात्र २५ से ३० गाड़ियां ही आ रही हैं। अनानास की आवक में भी भारी कमी हुई है। प्रतिदिन १० से २० ट्रक की आवक हो रही है जबकि पिछले वर्ष में ६५ से ७५ ट्रक आता था। आम का मौसम होने के कारण देवगढ़ हापुस आम पर्याप्त रूप में मिल रहे हैं। मई माह के अंतिम तक गुजरात हापुस भी मिलने लगेंगे। कलिंगर होलसेल बाजार में १५ रुपए से २० रुपए प्रति किलो बिक रहे हैं।