फिल्म ऑडिशन के बहाने नाबालिग से बलात्कार

११वीं में पढ़नेवाली एक नाबालिग छात्रा को फिल्म के ऑडिशन के लिए होटल में बुला मादक पदार्थ खिलाकर बलात्कार करने और उसका वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने के आरोप में नवघर पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार मुख्य आरोपी दानेश मोहम्मद अंसारी (२६) सह आरोपी शमसाद अस्मत खान (२१) रिक्शाचालक है।
पुलिस के अनुसार पीड़िता सपना (१६) ( बदला हुआ नाम) मीरा रोड-पूर्व के गोल्डन नेस्ट परिसर में रहती है और ११वीं कक्षा की छात्रा है। सपना अक्सर ऑटोरिक्शा से कॉलेज आती-जाती थी। इसी दौरान उसकी पहचान शमसाद नामक रिक्शा चालक से हुई। शमसाद नियमित सपना को घर से कॉलेज और कॉलेज से घर पहुंचाता था और भाड़ा नहीं लेता था। इसी क्रम में शमसाद एक दिन सपना को भाइंदर-पश्चिम के गोराई में घुमाने के लिए ले गया जहां उसने सपना के साथ अश्लील हरकतें की। इससे नाराज होकर सपना ने शमसाद को जलील कर उससे दूरी बना ली।
इसका बदला लेने के लिए शमसाद ने सपना का मोबाइल नंबर अपने दोस्त दानेश अंसारी को दे दिया। दानेश ने सपना को फोन कर शमसाद को बहुत भला-बुरा बताकर उसे खराब इंसान होने की बात कही। इस प्रकार से दानेश ने सपना को विश्वास में लेकर दोस्ती की। दानेश ने सपना से पूछा कि वह पढ़-लिखकर क्या बनना चाहती है? सपना ने अपनी इच्छा फिल्म में काम करने की बताई। इस पर दानिश ने उसे फिल्म में काम दिलाने के लिए ऑडिशन के नाम पर गोराई के एक होटल में ले गया। सपना से नजरें बचाकर दानिश ने प्रâाइड राइस में मादक पदार्थ मिलाकर उसे खिला दिया। बेहोश होने के बाद उसने सपना से बलात्कार करते हुए वीडियो बना लिया। इस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर दानिश ब्लैकमेल करने लगा। परेशान होकर सपना ने यह सारी घटना अपनी मां को बताई। मां ने नवघर पुलिस थाने में जाकर मामला दर्ज कराया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस प्रकरण की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक टीकाराम थाटकर कर रहे हैं।