फूट पड़ा गुस्सा!

सहने की भी एक सीमा होती है। अब अनुष्का शर्मा नहीं सह पाईं तो उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्ट कर अपनी भड़ास निकाली है। दरअसल, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विकेट कीपर फारुख इंजीनियर ने एक इंटरव्यू में दावा किया था कि वर्ल्ड कप २०१९ के दौरान क्रिकेट टीम के सिलेक्टर्स ने अनुष्का शर्मा को चाय परोसी थी। अनुष्का शर्मा ने फारूख इंजीनियर के दावों पर अपनी नाराजगी जताते हुए कहा कि उनकी चुप्पी को उनकी कमजोरी न समझी जाए।अगर तथ्यों पर ध्यान दें तो मैंने हमेशा से सारे प्रोटोकॉल फॉलो किए हैं। यह भी कहा गया कि बोर्ड मेरे लिए टिकट और सुरक्षा का इंतजाम करता है, जबकि सच्चाई यह है कि मैच और फ्लाइट की टिकट मैं खुद खरीदती हूं। अब इन सबमें जो सबसे नया झूठ फैलाया जा रहा है वो यह है कि मुझे सिलेक्टर्स ने वर्ल्ड कप २०१९ में चाय परोसी थी। आप देख सकते हैं कि मैं वर्ल्ड कप में एक गेम में आई हूं और पैâमिली बॉक्स में बैठी हूं, सिलेक्टर्स के साथ नहीं। अगर आपको अपने सिलेक्टर्स पर और उनकी योग्यताओं पर सवाल उठाना है तो शौक से उठाइए, लेकिन इसमें मेरा नाम मत घसीटिए।