फूलों का तबला, फूलों का हार्मोनियम रानीबाग में सजेगी वाद्यों की सरगम

मनपा की वार्षिक उद्यान प्रदर्शनी मुंबई की एक पहचान ही बन गई है। इस बार प्रदर्शनी को और रोमांचक बनाने के लिए मनपा ने रानीबाग में वाद्यों की सरगम सजाने की संकल्पना की है। इसके तहत पत्तों और फूलों से बांसुरी, तबला, हार्मोनियम, शहनाई, गिटार, सितार जैसे वाद्य यंत्रों की प्रतिकृति बनाई जाएगी। इस प्रतिकृति के जरिए मुंबईकर उद्यान में सैर के दौरान सुर का एहसास कर पाएंगे।
बता दें कि हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी मनपा ने वीरमाता जीजाबाई भोसले उद्यान (रानी बाग) में तीन दिवसीय उद्यान प्रदर्शनी का आयोजन किया है। एक से तीन फरवरी तक चलनेवाली इस उद्यान प्रदर्शनी में इस बार ‘संगीत व वाद्य’ की संकल्पना साकार की जाएगी। इस बार पत्तों और फूलों से बनी वाद्य यंत्र की प्रतिकृति मुंबईकरों के आकर्षण का केंद्र रहेगी। हर वर्ष उद्यान प्रदर्शनी में मनपा द्वारा अनोखा प्रयोग किए जाने से मुंबईकरों का इसे काफी प्रतिसाद मिल रहा है। वर्ष २०१६ में प्रदर्शनी में फूलों से स्वच्छता संबंधित वस्तुओं की प्रतिकृति बनाई गई थी। उस समय प्रदर्शनी में ५० हजार मुंबईकर आए थे। वर्ष २०१७ में बच्चों के पसंदीदा कार्टून्स बनाए गए थे। वर्ष २०१८ में फूलों से जलपरी की प्रतिकृति बनाई गई थी। २०१८ की प्रदर्शनी में डेढ़ लाख मुंबईकरों ने इसका लाभ उठाया था।
 एक से तीन फरवरी तक चलेगी प्रदर्शनी
 फूलों से बनेगी वाद्य यंत्र की प्रतिकृति
 दो लाख मुंबईकर हो सकते हैं शामिल
 प्रदर्शनी में विदेशी सब्जियों की एक अलग गैलरी
 आकर्षक पेड़ों का होगा स्वतंत्र विभाग
 लैंडस्केप आर्ट, फूल-पौधों आदि विषयों पर होगी प्रतियोगिता