बच्चों की भूख मिटाएगा ‘रोटी घर’, १,१०० बच्चों को मिलेगा खाना

झुग्गी-झोपड़ियों में रहनेवाले गरीब बच्चे जिन्हें पौष्टिक आहार नहीं मिलता, जिनके लिए दिन में एक समय के खाने का जुगाड़ भी मुश्किल है। ऐसे गरीब बच्चों के मसीहा के रूप में पहचाने जानेवाले चीनू क्वात्रा अब १,१०० बच्चों का पेट भरेंगे। ‘खुशियां फाउंडेशन’ के माध्यम से चीनू और उनके कुछ दोस्तों द्वारा शुरू की गई मुहिम ‘रोटी घर’ के द्वारा अब मुंबई और ठाणे के ८ स्थानों पर १,१०० बच्चों और ७० वृद्धों का पेट भरा जाएगा।
बता दें कि चीनू और उनके कुछ दोस्तों ने एक साल पहले ५ दिसंबर, २०१७ को १०० जरूरतमंद बच्चों को पौष्टिक खाना खिलाना शुरू किया था। अब इसी क्रम में आगे बढ़कर यह दल १०० की जगह १,१०० जरूरतमंद बच्चों का पेट भरेगा। शाम को ५.३० बजते ही ये बच्चे हाथों में प्लेट लिए कतार लगाकर खाना लेने के लिए खड़े हो जाते हैं।
रोटी घर के द्वारा इन बच्चों को प्रतिदिन दाल, चावल और अचार दिया जाता है। इसी के साथ ही कभी-कभी चॉकलेट्स और मिठाइयां भी दी जाती हैं। बच्चों को खिलाया जानेवाला यह खाना चीनू के ही ढाबे पर बनता है। चीनू की अनुपस्थिति में उनके कुछ दोस्त इस मुहिम को बरकरार रखने में सहायता करते हैं।