बनना चाहते थे डॉन!, रवि पुजारी की राह चलकर पहुंचे हवालात

अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी को अपना आदर्श मानकर अपराध की राह चलनेवाले दो युवकों को वालिव पुलिस ने विरार इलाके से गिरफ्तार किया है। ये आरोपी बाइक चोरी में माहिर थे। दोनों युवक अपराध की दुनिया में अपना गैंग बनाने की फिराक में थे मगर पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक वसंत रवि पुजारी कोटियान (२२) कर्नाटक से भागकर मुंबई अपना गैंग बनाने आया था। वसंत गांव में रहते हुए अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी के बारे में पढ़ता था। उसके मन में खुद गैंग बनाने की जिज्ञासा हुई।
मुंबई आने के बाद सबसे पहले उसने मुंबई के मुलुंड इलाके में बाइक चोरी की वारदात को अंजाम दिया। इसी दौरान उसकी मुलाकात आरोपी सागर रवि जाधव (२१) से हुई। फिर दोनों ने अपना गैंग बना लिया। दोनों ने मिलकर मुंबई, ठाणे, पालघर समेत अन्य कई जिलों में दर्जनों बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम दिया।
पुलिस ने बताया कि मुखबिरों से सूचना मिली कि मुंबई, ठाणे, पालघर जिले में बाइक चोरी की वारदात को अंजाम देनेवाले शातिर चोर वसई इलाके में आनेवाले हैं। सूचना के आधार पर पुलिस ने अपनी टीम के सिपाहियों को चौकन्ना कर दिया। जाल बिछाकर बैठी पुलिस को इलाके में उन्हें वसंत पुजारी नजर आया लेकिन वसंत को इसकी भनक लग गई और भागने लगा। पुलिस ने उसका पीछा कर करीब १ घंटे बाद उसे गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस ने इनके पास से ११ बाइक बरामद की है। इस काम में सागर जाधव नामक आरोपी साथ देता था। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया है।