बरेली में महिला दारोगा की हत्या, सिर पत्थर से कुचला

उत्तर प्रदेश के बरेली में पुलिस लाइन के ट्रांजिट हॉस्टल में एक महिला दारोगा की रस्सी से गला घोंटकर हत्या का मामला सामने आया है। स्पेशल इंटेलीजेंस की महिला दारोगा की हत्या से पहले उसके सिर को भी किसी भारी चीज से कुचला गया। इस घटना का पता उस समय चला जब दो दिन से महिला दारोगा के कमरे का दरवाजा न खुलने पर बाकी पुलिसकर्मी अन्दर घुसे।

दरअसल बरेली में पुलिस लाइन के ट्रांजिट हॉस्टल में रीना कुमारी नाम की इस महिला दारोगा के मौजूद होने के बाद भी उसके कमरे का दरवाजा दो दिनों से नहीं खुला था। दो दिन बाद मंगलवार देर रात जब पड़ोस में रहने वाले पुलिसकर्मी दरवाजा खोलकर अंदर घुसे तो गेस्टरूम में दरोगा की लाश पड़ी मिली और उसके कमरे का सामान बिखरा पड़ा था।
बता दें कि डिडौली के गांव रामनगर जोया निवासी 40 वर्षीय दरोगा रीना कुमारी एथलेटिक्स की कोच भी थी। रात करीब 12 उनकी जघन्य हत्या की खबर से पूरी पुलिस लाइन में हडकंप मच गया।रीना कुमारी के गले में रस्सी का फंदा कसा हुआ था और किसी भारी चीज से उनके सिर को कुचला गया था। आसपास बिखरे खून और चेहरे के जख्म को देख कर बताया जा रहा है कि हत्या एक या दो दिन पहले की गयी है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दारोगा रीना कुमारी की शादी रामनगर जोया के पड़ोसी गांव कूबी के एक पीएसी जवान शरणवीर से हुई थी। लेकिन यह शादी 2 साल में ही टूट गयी। रीना का यश नाम का एक बेटा है, जो दिल्ली में 11वीं कक्षा में पढता है। रीना कुमारी तीन महीने से चाइल्ड केयर लीव पर चल रही थीं। यश दो दिन पहले ही अपनी मां के पास से वापस दिल्ली गया था। यह भी कहा जा रहा है कि रीना की हत्या यश के जाने के बाद की गई। फिलहाल हत्या की सूचना पाकर डीआईजी राजेश पांडेय और एसएसपी मुनिराज ने भी सिविल लाइन हॉस्टल पहुंचकर मामले की जानकारी ली। एसएसपी ने बताया कि बुधवार को रीना के परिवार के लोगों से पूछताछ के बाद पुलिस हत्या की वजह पता लगाने की कोशिश करेगी।