बस चलाते समय फोन पर किया बात तो गिरेगी गाज, परिवहन निगम के चालकों को चेतावनी

यूपी के परिवहन मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि रोडवेज बसों के ड्राइवर यदि बस चलाते समय फोन पर बात करते हैं और कोई यात्री उसकी फोटो विभाग के अधिकारियों को व्हॉट्सऐप से भेजता है तो ऐसे चालकों पर ५,००० रुपए का आर्थिक दंड लगेगा। उन्होंने कहा कि फोटो भेजनेवाले यात्री को परिवहन विभाग १,००० रुपये का पुरस्कार भी देगा।
विधान परिषद सदन में प्रश्नकाल में सपा के शतरुद्ध प्रकाश और शिक्षक विधायक जगवीर किशोर जैन के प्रश्न के उत्तर में यह जानकारी परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने दी। एक अन्य प्रश्न के जवाब में परिवहन मंत्री ने कहा कि जबसे यूपी में भाजपा की सरकार बनी है पूरे प्रदेश में स्कूली वाहनों के फिटनेस की जांच का अभियान चल रहा है। सपा के शतरुद्ध प्रकाश ने २६ अप्रैल को कुशीनगर में एक टाटा मैजिक गाड़ी के रेलवे क्रॉसिंग में ट्रेन की चपेट में आने से हुई दुर्घटना में १३ बच्चों की मौत के बाद जांच रिपोर्ट की जानकारी एवं कार्रवाई के बारे में पूछा था। परिषद में परिवहन मंत्री ने कहा कि जांच रिपोर्ट आ गई। इसमें निलंबित एआरटीवो अब सेवानिवृत्त हो गए हैं और पीटीओ को बहाल कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि स्कूली बच्चों को घर से स्कूल और स्कूल से घर लाने-ले जानेवाले वाहनों के लिए नीति बनाई गई है और इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए सरकार सजग है। इसी मकसद से वाहनों की फिटनेस जांच का अभियान चल रहा है।