" /> बस-मेट्रो में सफर करनेवाले लोग, बरतें ५ सावधानियां

बस-मेट्रो में सफर करनेवाले लोग, बरतें ५ सावधानियां

कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया के लोग सहमे हुए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को लगातार फैलता हुए देख लोग घरों से बाहर निकलने से बच रहे हैं। हालांकि बहुत सारे लोग ऑफिस, मार्केट या फिर किसी जरूरी काम से मेट्रो और बस के जरिए सफर कर रहे हैं। ऐसे लोगों को खास सावधानी बरतने की जरूरत है।

दरअसल, मेट्रो और बसों के जरिए रोजाना लाखों लोग सफर कर रहे हैं। बस और मेट्रो में बहुत से लोग फ्लू के लक्षणों से भी पीड़ित मिल जाएंगे। हालांकि यह लक्षण कोरोना वायरस के संक्रमण का है या नहीं, इस बारे में आप अंदाजा नहीं लगा सकते हैं। ऐसे में अगर आप मेट्रो और बस से यात्रा कर रहे हैं तो नीचे बताई जा रही सावधानियों को आज से ही अपनाना शुरू करें।
मेट्रो और बस में आपको ऐसे बहुत से लोग मिल जाएंगे, जो सर्दी-जुकाम से पीड़ित होंगे। आपको बता दें कि कोरोना वायरस का लक्षण भी सर्दी-जुकाम से मिलता जुलता ही है। इसलिए अगर आपके आस-पास कोई भी ऐसा व्यक्ति खड़ा है तो, उनसे थोड़ी दूरी बना लें। ऐसा करने से आप कोरोना वायरस के संक्रमण से काफी हद तक सुरक्षित रह सकते हैं।

कोरोना वायरस के फैलने का खतरा इस माध्यम में सबसे ज्यादा होता है। दरअसल खांसने और छींकते वक्त बहुत कम लोग ही उसे रोकने के लिए रुमाल यह अपने हाथों का सहारा लेते हैं। जबकि कुछ लोग ऐसे ही खांसते और छींकते हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित कोई व्यक्ति अगर छींक रहा है तो वायरस उस माध्यम से हवा में आ जाते हैं। इस दौरान आप जब सांस लेते हैं तो यह और अगर आप ऐसे व्यक्ति के करीब हैं मेट्रो और बस में ऐसे लोगों के पास बैठेने या खड़े होने से बचें।
बस और मेट्रो में सफर करते वक्त आपको इस बात का भी सबसे ज्यादा ध्यान रखना पड़ेगा। दरअसल मेट्रो और बस में सफर करने वाले लोगों में से कुछ लोग कोरोना वायरस से संक्रमित भी हो सकते हैं। ऐसे लोग छींकने और खांसने के बाद हाथों का इस्तेमाल करते हैं और उसके बाद इन्हीं हाथों से बस और मेट्रो में लगे हुए हैंगर को भी पकड़ते हैं। अगर ऐसे व्यक्ति को रोना वायरस से संक्रमित हैं तो वायरस ऐसे व्यक्तियों के हाथों के जरिए हैंगर पर लगे रह जाएंगे और अगर आप ऐसे हैंगर को पकड़ते हैं तो वह वायरस आपको भी अपना शिकार बना लेगा। इसलिए कोशिश करें कि हैंगर को ना पकड़ना पड़े और अगर आप बस और मेट्रो में लगे हुए हैंगर को पकड़ते भी हैं तो आप अपने हाथों में ग्लव्स को जरूर पहनें रखें।

इस बात के लिए आपको बिल्कुल भी लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। मेट्रो स्टेशन या फिर बस स्टेशन पर पहुंचने से पहले ही आपको माउथ मास्क पहन लेना चाहिए। दरअसल भीड़भाड़ वाले इलाके में कोई भी व्यक्ति को रोना के संक्रमण से ग्रसित हो सकता है जिसके बारे में आपको पता भी नहीं होगा और वह वायरस आप तक भी पहुंच सकता है। इसलिए कोरोना वायरस से बचने के लिए मेट्रो और बस स्टेशन पर पहुंचने से लेकर उतरने के बाद तक, माउथ मास्क जरूर लगाकर रखें।
मेट्रो और बस में सफर करते समय आपको अपने आसपास मौजूद लोगों को संक्रमण से बचाए रखने के बारे में भी सजग होना चाहिए। अगर आपको सामान्य रूप से सर्दी-जुकाम, खांसी और फ्लू जैसे लक्षण हैं तो आप इस संक्रमण को दूसरों तक भी ना पहुंचने दें। जब भी आपको मेट्रो या बस में खांसी या छींक आए तो अपने मुंह को ढकें और उसके बाद अगर आपके पास सैनिटाइजर मौजूद है तो, उससे अपने हाथों को तुरंत साफ करें। ऐसा करके आप बस/मेट्रो में मौजूद यात्रियों को भी संक्रमण से बचाए रख सकते हैं।