" /> बांद्रा का कोविड केयर केंद्र नंबर-१ : आईसीयू से लेकर ऑक्सीजन तक की सुविधा

बांद्रा का कोविड केयर केंद्र नंबर-१ : आईसीयू से लेकर ऑक्सीजन तक की सुविधा

कोरोना मरीजों के बेहतर इलाज के लिए राज्य सरकार ने बांद्रा में एक हजार बेड का कोविड केयर केंद्र बनाया है। इस केंद्र के संदर्भ में विपक्ष बीते कुछ दिनों से दुष्प्रचार कर रहा था। विपक्ष के इस दुष्प्रचार की बोलती खुद मुंबईकरों ने बंद कर दी है। मुंबईकर इस कोविड केयर केंद्र को उपचार सुविधा में नंबर वन बता रहे हैं। इस आशय का वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

बता दें कि बीते माह कोरोना मरीजों के लिए एमएमआरडीए द्वारा बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स के मैदान में एक हजार बेड का कोरोना केयर केंद्र ओपन अस्पताल का निर्माण किया गया। इस अस्पताल को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में मनपा को हस्तांतरित किया गया। इस अस्पताल में चरणबद्ध तरीके से सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। अब यहां डेढ़ सौ बेड का आईसीयू बनाया गया है। मरीजों को यहां दी जा रही बेहतर सुविधाओं के संदर्भ में लोग सोशल मीडिया पर खुद प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर वायरल किए गए वीडियो में बांद्रा के लोग इस केंद्र को नंबर वन बता रहे हैं। लोग अपने वीडियो में यहां तक कहते दिखाई दे रहे हैं कि राज्य सरकार ने कोरोना मरीजों के लिए इस अस्पताल का निर्माण कर बहुत ही अच्छा और सराहनीय कार्य किया है। लोग कह रहे हैं कि यहां हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध है। यहां गंभीर कोरोना मरीजों का भी इलाज हो रहा है। यहां आईसीयू और वेंटिलेटर की सुविधा होने से लोग प्राइवेट अस्पतालों द्वारा वसूले जानेवाले दर से बच सकेंगे। लोग इस केंद्र के संदर्भ में यहां तक बता रहे हैं कि यहां उत्तम दर्जे का इलाज हो रहा है। साथ ही केंद्र के डॉक्टर दिन-रात मेहनत कर लोगों को कोरोना से निजात दिलाने में जुटे हुए हैं।

राज्य सरकार ने एक उत्तम दर्जे का कोरोना अस्पताल बनाया है, जो सराहनीय कार्य है। इस अस्पताल में आम से लेकर खास लोगों तक का इलाज निशुल्क हो रहा है। सरकार के इस कदम को मुंबईकरों का सलाम। इस केंद्र के प्रमुख डॉ. राजेश ढेरे द्वारा किए जा रहे काम भी सराहनीय योग्य है।
– सलीम जाफर शेख (समाजसेवक)

बांद्रा के कोविड केयर सेंटर में लोगों को आसानी से बेड उपलब्ध हो जाते हैं। आईसीयू बेड के लिए लोग अगर निजी अस्पतालों के चक्कर काट रहे हैं तो वे राज्य सरकार द्वारा बनाए गए इस सेंटर में आसानी से आईसीयू बेड पा सकेंगे। यहां बेहतर उपचार हो रहा है और लोग ठीक होकर घर जा रहे हैं।
– रिजवान शेख (समाजसेवक)

बॉक्स-
७ हजार बेड, २५० आईसीयू रिक्त
मनपा अस्पताल और कोरोना हेल्थ सेंटर पर रोजाना आनेवाले मरीजों को बेड उपलब्ध कराने के बावजूद कल तक ७ हजार कोविड बेड और २५० आईसीयू बेड मनपा के पास रिक्त पड़े हैं। यह जानकारी मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने दी है।