बालाकोट में एयर स्ट्राइक के दौरान जैश कैंप में एक्टिव थे २८० मोबाइल-भारतीय सेना

भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर की गई एयर स्ट्राइक में २८० आतंकियों के मारे जाने का सबूत आमने आया है। नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन  के सर्विलांस से खुलासा हुआ है कि जब बालाकोट में भारतीय वायुसेना ने एयर स्ट्राइक की, उस समय वहां पर २८० मोबाइल फोन एक्टिव थे। इससे साफ होता है कि भारतीय वायुसेना ने जिस समय बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों पर हमला किया, उस समय वहां पर करीब २८० आतंकी मौजूद थे।

सूत्रों के मुताबिक  भारतीय वायुसेना को बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के कैंप में २८० से ज्यादा मोबाइल फोन एक्टिव होने की जानकारी दी थी। इसके अलावा बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के कैंप में २८० से ज्यादा आतंकियों के मौजूद होने की जानकारी भी उपलब्ध कराई थी। खुफिया एजेंसियों ने भी सैटेलाइट के जरिए जैश के बालाकोट वैंâप में काफी संख्या में आतंकियों के मौजूद होने की जानकारी जुटाई थी।

इस जानकारी के बाद भारतीय वायुसेना के मिराज लड़ाकू विमानों ने जैश के कैंप पर एयर स्ट्राइक की थी। भारतीय वायुसेना का बालाकोट मिशन पूरी तरह सफल रहा। जब िंहदुस्थान के लड़ाकू मिराज विमान बालाकोट में आतंकियों के ठिकानों को तबाह कर रहे थे, तब पाकिस्तान बेखबर था, लेकिन जैसे ही उसको इसकी जानकारी मिली, वो बौखला गया। इसके बाद उसने भारतीय क्षेत्र में हवाई हमला किया, जिसका भारतीय वायुसेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया। इस हवाई भिड़ंत में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ-१६ लड़ाकू विमान को भी मार गिराया था।