बालासाहेब ठाकरे रोजगार सम्मेलन का चमत्कार, 2 घंटे में 2 हजार रोजगार

केंद्र सरकार ने बेरोजगार युवाओं को नौकरी का केवल सब्जबाग ही दिखाया है लेकिन महाराष्ट्र सरकार में शामिल शिवसेना के मंत्रियों ने बेरोजगारों को रोजगार देने का काम शुरू कर दिया है। इसी के तहत महाराष्ट्र राज्य उद्योग विभाग की ओर से वाशी स्थित सिडको एक्जीबिशन सेंटर में आयोजित किए गए बालासाहेब ठाकरे रोजगार सम्मेलन को युवाओं का कल जोरदार प्रतिसाद मिला। इस सम्मेलन में करीब 10 हजार युवाओं का विभिन्न कंपनियों ने साक्षात्कार लिया। इसमें से दो हजार युवाओं की नियुक्ति ‘ऑन दी स्पॉट’ कर कंपनियों ने उन्हें नियुक्ति पत्र महज दो घंटे में सौंप दिया। इस सम्मेलन में युवतियों की संख्या सबसे अधिक थी। महाराष्ट्र राज्य के सभी बेरोजगार युवाओं को काम मिले, इस उद्देश्य से उद्योग विभाग की ओर से राज्य के विभिन्न इलाकों में बालासाहेब ठाकरे रोजगार सम्मेलन की शुरुआत की गई है। पहला सम्मेलन पुणे में हुआ, इसके बाद कल वाशी में दूसरा सम्मेलन संपन्न हुआ। इस सम्मेलन का उद्घाटन शिवसेना नेता-उद्योग मंत्री सुभाष देसाई और शिवसेना नेता-पालक मंत्री एकनाथ शिंदे के हाथों हुआ। इस सम्मेलन में नई मुंबई और आसपास सटे परिसरों के युवा वर्ग के लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए। एक्जीबिशन सेंटर में विभिन्न क्षेत्रों की करीब 175 कंपनियों के स्टॉल लगे हुए थे। प्रत्येक स्टॉल पर साक्षात्कार देने के लिए युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी। ऑनलाइन पंजीयन के चलते सम्मेलन अनुशासनात्मक तरीके से संपन्न हुआ। दसवीं, बारहवीं, स्नातक, आईटीआई और टेक्नोलॉजी की डिग्री पाए बेरोजगार युवाओं के लिए अलग-अलग विभाग बनाए गए थे। जिसके चलते युवाओं को अपनी पसंदीदा कंपनियों का चयन करना आसान हो गया था। इस मौके पर शिवसेना उपनेता विजय नाहटा, सांसद राजन विचारे, विधायक मंदा म्हात्रे, संदीप नाईक, एमआईडीसी के कार्यकारी अधिकारी विजय शेट्टी, हर्षदीप कांबले, मनपा आयुक्त रामास्वामी एन., जिलाधिकारी आरजी नार्वेकर, जिलाप्रमुख विट्ठल मोरे, द्वारकानाथ भोईर आदि उपस्थित थे।