" /> बिहार में आकाशीय बिजली की आफत! 10 लोगों की मौत

बिहार में आकाशीय बिजली की आफत! 10 लोगों की मौत

बिहार में एक बार फिर आफत बनकर गिरी आसमानी बिजली गिरी। प्रदेश के सीमांचल के तीन जिलों अररिया, कटिहार और किशनगंज में अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से बच्चा और वृद्ध समेत कुल दस लोगों की मौत हो गई।
अररिया जिले में शुक्रवार को बारिश के दौरान ठनका की चपेट में आने से बच्ची, वृद्ध सहित पांच लोगों की मौत हो गई। यह घटना रानीगंज प्रखंड के परिहारी, परमानंदपुर, बसेटी, पलासी प्रखंड के पलासी प्रखंड के कुजरी पंचायत स्थित बकराडांगी और भरगामा प्रखंड के हरिपुर कला वार्ड 15 में हुई।
रानीगंज के परमानंदपुर में पंचायत के वार्ड तीन में खेत से मवेशी चराकर  घर लौटने के दौरान बिजली गिरने से नूर आलम के 14 वर्षीय बेटे बाबुल की मौत हो गई। मृतक के परिजनों ने बताया कि शुक्रवार को वे गांव के लोगों के साथ बाबुल बहियार में मवेशी चराने गया था। दूसरी घटना परिहारी पंचायत स्थित वार्ड संख्या सात में ठनका की चपेट में आने से पांच साल बच्ची की मौत हो गई। बच्ची परिहारी पंचायत के मुन्ना मंडल की बेटी कल्पना कुमारी थी। खेलने के दौरान ही घर के पीछे बांस की बाड़ी में वज्रपात से उनकी मौत हो गई।
तीसरी घटना रानीगंज प्रखंड व बौसीं थाना क्षेत्र के बसेटी बहियार में हुई यहां वार्ड 08 निवासी इस्लाम अंसारी के 37 वर्षीय बेटे मुमताज अंसारी की मौत हो गई। मृतक के परिजनों ने बताया कि मुमताज शुक्रवार की सुबह धान की रोपनी करने बहियार गया था। इसी दौरान बहियार में ही ठनका की चपेट में आने से वह गंभीर रूप से झुलस  गया। अस्पताल ले जाने के दौरान उनकी मौत हो गई। चौथी घटना पलासी प्रखंड के कुजरी पंचायत स्थित बकराडांगी गांव में हुई। यहां ठनका की चपेट में आने से एक 62 वर्षीय वृद्ध गयानंद यादव की मौत हो गई।
पांचवीं घटना भरगामा प्रखंड के हरिपुर कला वार्ड 15 में हुई। यहां धान रोपने की दौरान ठनका की चपेट में आने से 54 वर्षीय बिन्दी ऋषिदेव की मौत हो गई। इधर जिला आपदा प्रबंधन पदाधिकारी शंभू कुमार ने बताया कि जिले के अलग-अलग जगहों पर पांच की मौत हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद सरकारी प्रावधान के तहत मुआवजा दिया जाएगा।
किशनगंज में अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से बच्चा समेत 3 की मौत हो गई। पहली घटना शुक्रवार की दोपहर दिघलबैंक प्रखंड के मंगुरा पंचायत के चेन मंगुरा गांव की है। यहां आसमानी बिजली गिरने से एक 14 वर्षीय बच्चे मुस्तकीम, पिता सैदुल रहमान की मौत हो गई है। जबकि दूसरी घटना में बहादुरगंज प्रखंड के निसंद्रा गांव के निवासी मो. अमन पिता मो. नुरुल की वज्रपात की चपेट में आन से मौत हो गई।  तीसरी घटना टेढ़ागाछ प्रखंड में घटी जहां टेढ़ागाछ प्रखंड के डाकपोखर पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर 02 स्थित बेणुगढ़ में शुक्रवार को वज्रपात होने से एक 12 वर्षीया नाबालिग लड़की पूजा कुमारी की मौत होने की पुष्टि टेढ़ागाछ प्रभारी सीओ अनिल कुमार संतोषी ने की है।
कटिहार जिले के आजमनगर प्रखंड में  ठनका के चपेट में आने से दो लोगों की मौत हो गई। एक मवेशी की भी मौत हो गई। शीतलमनी पंचायत के शर्मा टोली गाउन में लालचंद्र शर्मा 18 वर्ष  बारिश के समय घर  के सामने सड़क पर स्नान कर रहा था। इसी दौरान ठनका  के चपेट में आने से उसकी मौत हो गई।  जोकर पंचायत के बभनगांव में भी ठनका गिरने से एक महिला चंपा देवी 28 वर्ष की मौत हो गई। महिला बारिश के दौरान मवेशी लाने गई थी। इसी दौरान ठनके की चपेट में आई और उसकी मौत हो गई। वही इसी गांव के सीताराम राय की गाय बारिश के दौरान बांध पर चर रही थी। ठनका गिरने से गाय की मौत हो गई।
घटना की सूचना पर अंचल निरीक्षक हाफिजुर रहमान उर्फ टिंकू ने घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। अंचलाधिकारी शंभूनाथ राम ने बताया कि ठनका गिरने से एक महिला, एक युवक और एक मवेशी की मौत हुई है ।