बुर्के में हुई मुराद पूरी

टीबी जैसी गंभीर बीमारी से जूझ रही १३ वर्षीय सुमैया शेख का इंतजार आखिरकार कल खत्म हुआ। उसने फिल्म अभिनेत्री श्रद्धा कपूर से मिलने की इच्छा जाहिर की थी। उसकी यह मुराद कल बुर्के में केईएम अस्पताल आकर श्रद्धा कपूर ने पूरी की। इतना ही नहीं श्रद्धा ने उसे चॉकलेट भी दिया और उसे जल्द ठीक होने के लिए प्रोत्साहित किया।
बता दें कि पिछले एक महीने से सुमैया केईएम अस्पताल में टीबी से जंग लड़ रही है। पीड़िता काफी गरीब है, उसके पिता सलीम पेशे से टैक्सी ड्राइवर हैं। बेटी के इलाज के कारण वह काम भी नहीं कर पा रहे हैं। सुमैया की बड़ी बहन ही नौकरी कर घर का किराया और परिवार का खर्च वहन कर रही है। ऐसे बुरे समय में ऑनलाइन फंड इकट्ठा करनेवाली संस्था `केटो’ उसके इलाज के लिए सोशल मीडिया के माध्यम से पैसे इकट्ठा कर रही है। इसी बीच सुमैया ने `केटो’ को बताया कि उसकी इच्छा है कि वह एक बार फिल्म अभिनेत्री श्रद्धा कपूर से मिले। बच्ची की इच्छा पूरी करने के लिए `केटो’ ने जैसे ही ट्वीट किया, श्रद्धा ने तुरंत बच्ची से मिलने की इच्छा जाहिर की। बिना समय गंवाए श्रद्धा कल मनपा के केईएम अस्पताल में आईं और बच्ची से मुलाकात की। लोग उन्हें पहचाने न इसलिए वे बुर्के में आई थीं। सुमैया ने कहा `मैंने जब से उनकी फिल्म `आशिकी-२’ और `एबीसीडी-२’ देखी है तब से मैं उनकी फैन बन गई हूं। मुझे कल ह्वील चेयर पर बैठाकर एक कमरे में ले जाया गया, जहां बुर्वेâ में श्रद्धाजी खड़ी थीं। उन्होंने मुझे दो चॉकलेट दिए, मेरा हाल पूछा और जल्द से जल्द ठीक होने की दुआ मांगी। मैं आज बहुत खुश हूं। श्रद्धा ने आज ट्वीट कर कहा कि `मैं आज बहुत खुश हूं क्योंकि आज मैं गई और सुमैया से भेंट हो पाई। वह नन्हीं सी परी है। मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं कि वह जल्द से जल्द ठीक हो जाए। श्रद्धा ने `केटो’ का भी आभार प्रकट किया, जो उसके इलाज के लिए काफी मदद कर रही है। श्रद्धा ने सुमैया के इलाज के लिए आर्थिक सहायता देने की बात भी कही। `केटो’ के चेयरमैन वरुण शेठ ने श्रद्धा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह बड़ी बात है कि वे खुद केईएम अस्पताल आईं और उन्होंने सुमैया को भेंट की। बच्ची भी काफी खुश है और वह जीना और खेलना चाहती है।