" /> बेजुबान जानवरों के लिए रोटी बैंक 22 मार्च से कर रहे हैं गरीबो की सेवा

बेजुबान जानवरों के लिए रोटी बैंक 22 मार्च से कर रहे हैं गरीबो की सेवा

अंबरनाथ से  नेरल तक करते हैं जानवरों की सेवा
पुलिस करती हैं सहयोग
बदलापुर में एक पुलिस हवलदार की प्रेरणा से गरीबों की सेवा कार्य कर रही नूतन लाइफ वेलफेयर एसोसिएशन नामक संस्था के संचालक कोरोना संकट के दौरान भूख और प्यास से परेशान बेजुबान पशुओं के लिए भोजन आदि के प्रबंध का सराहनीय कार्य कर रहे हैं। संस्था की तरफ से लोगों से आह्वान किया गया है कि जो लोग जिस तरह से खुद भोजन कर रहे हैं, उसी तरह से भोजन का कुछ अंश दान देकर बेजुबान प्राणियों की भूख मिटाने का नेक कार्य भी करें। संस्था की तरफ से रोटी बैंक का निर्माण किया गया है। इस रोटी बैंक रूपी  भोजन संग्रह केंद्र में क्षमता के अनुरूप रोटी व अन्य खाद्य पदार्थ दें।
नूतन लाइफ वेलफेयर एसोसिएशन संस्था के संचालक रुद्रदत्त पांडेय ने बताया कि वे 22 मार्च, 2020 से अब तक पदचारी पथ, सार्वजनिक जगह पर भिक्षुक, लावारिस, गरीब जो लोग भीख मांगकर पेट भरते थे। कोरोना रोग के चलते सरकार द्वारा लगाए गए लॉक डाउन के चलते सभी तरफ बंदी के चलते गरीबों के साथ-साथ बेजुबान पशुओं व जानवरों को भी खाने के लाले पड़ गए। मंदिर, खाद्य पदार्थों के होटल, हाथगाड़ी बंद होने से कुत्ते, बिल्ली,  साथ-साथ गरीबों की हालत खराब हो गई। रुद्रदत्त का कहना है कि अब तक गरीबों को जो अंबरनाथ से नेरल तक रहते हैं। सहयोगियों के साथ दोनों समय 500 लोगों को खाना-पानी देते रहे हैं। 3 महिला व 2 पुरुष के मार्फत भोजन बनाकर दिया जाता है। रुद्रदत्त पांडेय ने बताया कि पुलिस सिपाही रमेश सीधाराम जगदे की प्रेरणा से  3 मई को रोटी बैंक शुरू किया गया है। इस बैंक में लोग यथाशक्ति रोटी दें। यह रोटी बेजुबान पशुओं व जानवरों को जिसमें कुत्ता, बिल्ली, गाय, बंदर, आदि की भूख मिटाएगी। इसके साथ-साथ दुर्बल गरीब लोगों को भी भोजन की व्यवस्था की जाती रहेगी। सुबह 7 से दोपहर 10 बजे तथा शाम को 7 से रात 10 बजे तक अंबरनाथ से नेरल तक तीन समूहों में खाद्य सामग्री पहुंचाई जाती है। रुद्रदत्त ने बताया कि इस रोटी बैंक सेवा में 5 लोग शामिल हुए हैं। उनके मार्फत 140 रोटी मिल चुकी हैं। नेरल, कुलगांव, बदलापुर पूर्व व पश्चिम,  अंबरनाथ व शिवाजीनगर जैसे पुलिस स्टेशन का बेहतर सहयोग मिल रहा है। उनसे किसी भी तरह की अड़चन बाधक नहीं होती। रुद्रदत्त ने  बदलापुर के लोगों से आह्वान किया है कि जो भी रोटी, भात (चावल) देना चाहें तो (7021294687 / 8693874121) इस मोबाइल नंबर पर फोन कर सकते है।