बेलगाम ड्राइवरों पर लगेगी लगाम, होगा ८ हजार लाइसेंस निरस्त

राज्य में स़ड़क हादसे भले ही कम हो गए हों लेकिन इन हादसों में मरनेवालों का ग्राफ काफी ब़ढ़ा है। इन हादसों के लिए तेज रफ्तार से वाहन चलानेवाले बेलगाम वाहनचालक जिम्मेदार माने जा रहे हैं। ऐसे बेलगाम वाहन चालकों पर लगाम कसने के लिए महाराष्ट्र हाइवे ट्रैफिक पुलिस ने कमर कस ली है। बेलगाम ८ हजार वाहनचालकों पर लगाम लगाने के लिए इनके लाइसेंस सस्पेंड करने का प्रस्ताव आरटीओ को भेजा गया है।
बता दें कि बीते वर्ष २०१८ में मुंबई सहित पुणे ग्रामीण, नगर, नासिक, सोलापुर, पालघर आदि इलाकों से सटे हाइवे पर ३५,९५७ सड़क हादसे हुए। इसमें १३ हजार लोगों की जान चली गई, जिसमें मुंबई के ४१० लोगों का समावेश है। वर्ष २०१७ की तुलना में वर्ष २०१८ में मरनेवालों की संख्या में इजाफा हुआ है। वर्ष २०१७ में हुए सड़क हादसों में १२,५११ लोगों की मौत हुई थी, जबकि वर्ष २०१८ में १३ हजार की मौत हुई है। इन हादसों के लिए हाइवे पुलिस ने उन बेलगाम ड्राइवरों को जिम्मेदार ठहराया है, जो तेज रफ्तार से वाहन चलाने के अलावा ट्रैफिक के अन्य नियमों का भी उल्लंघन करते हैं। हाइवे ट्रैफिक पुलिस के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विनय कोरगावकर की मानें तो बीते दो माह में हाइवे पुलिस ने ८.१०६ ड्राइवरों का लाइसेंस निरस्त करने के लिए भेजा है।