ब्रैडमैन से आगे मयंक, १२वीं पारी में पूरे किए २ दोहरा शतक

टीम इंडिया के ओपनिंग बल्लेबाज मयंक अग्रवाल कल अपना दोहरा शतक बनाने के साथ ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन से भी आगे निकल गए। मयंक ने इंदौर के होलकर स्टेडियम में बांग्लादेश के साथ जारी पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन छक्के के साथ अपने करियर का दूसरा दोहरा शतक पूरा किया। मयंक ने १२वीं पारी तक जाते-जाते दो दोहरे शतक लगा लिए हैं, जबकि ब्रैडमैन ने दो दोहरे शतकों के लिए १३ पारियों का इंतजार किया था। हालांकि इनमें से एक दोहरे शतक को बैडमैन ने बाद में तिहरे शतक में बदला था। तब ब्रैडमैन ने इंग्लैंड के खिलाफ ३३४ रनों की पारी खेली थी।इस फेहरिस्त में हालांकि भारत के विनोद कांबली सबसे आगे हैं, जिन्होंने अपने करियर की शुरुआती पांच पारियों में ही दो दोहरे शतक लगा लिए थे।
मयंक ने ३०३ गेंदों में २५ चौकों और ५ छक्‍कों की मदद से टेस्‍ट क्रिकेट में अपना दूसरा दोहरा शतक पूरा किया। मयंक ने स्पिनर मेहदी हसन मिराज की गेंद पर छक्‍का लगाकर २०० रन का आंकड़ा पार किया। पिछले महीने ही दक्षिण अप्रâीका के खिलाफ मयंक ने डबल सेंचुरी लगाई थी। विशाखापट्टनम में खेले गए टेस्‍ट में उन्‍होंने २१५ रन की पारी खेली थी। उनके नाम टेस्‍ट में ३ शतक और ३ अर्धशतक हो चुके हैं। पिछली ५ पारियों में वे ३ शतक लगा चुके हैं। मयंक ने पिछले साल ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर मेलबर्न में टेस्‍ट करियर का आगाज किया था।
रोहित, सहवाग की बराबरी
मयंक ने अपने करियर में दूसरी बार छक्‍का लगाकर दोहरा शतक पूरा किया है। वहीं अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में मयंक से पहले रोहित शर्मा ने सिक्‍स के साथ दोहरा शतक लगाया था। मयंक ने ओपनर के रूप में एक साल में दो दोहरे शतक लगाने में वीरेंद्र सहवाग की बराबरी कर ली है। सहवाग ने २००८ में यह कमाल किया था। बांग्‍लादेश के खिलाफ डबल सेंचुरी लगानेवाले मयंक अग्रवाल तीसरे भारतीय हैं। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर ने २००४ और विराट कोहली ने २०१७ में इसी टीम के खिलाफ दोहरा शतक जड़ा था। मयंक ने अपने करियर में दूसरी बार छक्‍का लगाकर दोहरा शतक पूरा किया है। वहीं अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में मयंक से पहले रोहित शर्मा ने सिक्‍स के साथ दोहरा शतक लगाया था। सहवाग ने २००८ में यह कमाल किया था। बांग्‍लादेश के खिलाफ डबल सेंचुरी लगानेवाले मयंक अग्रवाल तीसरे भारतीय हैं। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर ने २००४ और विराट कोहली ने २०१७ में इसी टीम के खिलाफ दोहरा शतक जड़ा था।
कम पारियों में दोहरा शतक
०५ पारियां- विनोद कांबली
१२ पारियां- मयंक अग्रवाल
१३ पारियां- डॉन ब्रैडमैन
१४ पारियां- लॉरेंस रो
१५ पारियां- ग्रीम स्मिथ
१६- पारियां- वॉली हेमंड