" /> बढ़ते कोरोना मरीजों के साथ मनपा ने बढ़ाई सुविधाएं : हर स्तर पर कोरोना को मात देने के लिए मनपा कर रही है प्रयास

बढ़ते कोरोना मरीजों के साथ मनपा ने बढ़ाई सुविधाएं : हर स्तर पर कोरोना को मात देने के लिए मनपा कर रही है प्रयास

मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है लेकिन इन बढ़ते मरीजों की संख्या रोकने के लिए मनपा ने स्वास्थ्य संबंधित सुविधाएं भी बढाई है और इस महामारी को रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है|

मनपा द्वारा हाल ही में एक वीडियो के माध्यम से मुंबई में कोरोना वायरस के बढ़ते ग्राफ को रोकने के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी साझा की गई| इसके मुताबिक महाराष्ट्र में देश के अन्य सभी राज्यों से ज्यादा टेस्टिंग हो रही है| मुंबई में अभी तक 65,000 से ज्यादा लोगों की टेस्टिंग की जा चुकी है, जो कि देश के अन्य बड़े शहरों की तुलना में काफी ज्यादा है| इसी के साथ मे प्रति 10 लाख लोगों पर 5,071 लोगों की टेस्टिंग की गई है जबकि तमिलनाडु में यह संख्या प्रति 10 लाख लोगों पर 2,624, राजस्थान में 1,220, दिल्ली में 794 और केरल में 684 है| मुंबई में एयरपोर्ट्स पर 2,70,000 लोगों की स्क्रीनिंग और ट्रेसिंग की गई| इसके अलावा 81 लाख बीमार लोगों की स्क्रीनिंग भी की गई| मनपा आयुक्त प्रवीण परदेशी ने बताया कि 7,500 से ज्यादा झोपड़पट्टियों को कोविड केअर सेंटर में तब्दिल कर दिया गया है और लोगों की सुरक्षा के लिए कंटेनमेंट जोन की 520 से ज्यादा इमारतों और 680 से ज्यादा चॉल और स्लम्स को पूरी तरह लॉक किया गया है| वर्तमान में हाई रिस्क कांटेक्ट एरिया क्वारंटाइन सुविधा बढ़ाने के लिए 17,000 से भी ज्यादा बेड की सुविधा उपलब्ध है| इसके अलावा जिन लोगों में थोड़े लक्षण देखने को मिले हैं और जिनके कोरोना पॉजिटिव पाए जाने का अंदेशा है, उनके लिए 14,400 से ज्यादा बेड के साथ आइसोलेशन की सुविधा दी गई है| डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में जिन मरीजों की स्थिति क्रिटिकल नही है, उनके लिए 700 से ज्यादा और जिनकी स्थिति क्रिटिकल है, उनके लिए 2,600 से ज्यादा बेड की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है और इससे अधिक आवश्यकता पड़ने पर मनपा की स्कूलों में स्वास्थ्य संबंधित सुविधाएं विकसित की जा रही है। परदेशी ने बताया कि यह वायरस नया होने के कारण पूरे विश्वभर के लोगों के लिए बहुत बड़ी मुसीबत बन गया है लेकिन इससे लड़ने के लिए मनपा नई नई तकनीकों के इस्तेमाल पर भी जोर दे रही है|