बढ़ाओगे हाथ तो मिलेगा चुनावी साथ, ‘आईएमए’ ने जारी किया घोषणापत्र

लोकसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। ऐसे में सभी लोगों की आशाएं राजनीतिक दलों से बढ़ गई हैं। इसे देखते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी चुनावी मैदान में उतरे राजनीतिक दलों के समक्ष अपने स्वास्थ्य के घोषणापत्र की फेहरिस्त रख दी है। इन फेहरिस्तों को अपनाने में जो भी पार्टी हाथ बढ़ाएंगी यानी चुनावी मेनिफेस्टो में शामिल करेंगी, उसका ही साथ एसोसिएशन चुनाव में देगी।
बता दें कि देश में स्वास्थ्य संगठन ‘इंडियन मेडिकल एसोसिएशन’ है, जिसके तीन लाख सदस्य हैं। इसमें डॉक्टर और विद्यार्थी शामिल हैं। लोकसभा चुनाव को देखते हुए एसोसिएशन ने चुनाव से पहले ही स्वास्थ्य मेनिफेस्टो जारी किया है। यह मेनिफेस्टो राजनीतिक पार्टियों के लिए जारी किया गया है। इसमें एसोसिएशन ने अपनी मांगों की फेहरिस्त तैयार की है, जिसमें संसद में लंबित नेशनल मेडिकल बिल, आयुष्यमान भारत योजना की दरों में संशोधन, स्वास्थ्य क्षेत्र में संशोधन व विकास के लिए अधिक निधि, सार्वजनिक अस्पतालों का सक्षमीकरण, फार्मा उत्पादकों के लिए कड़े नियम व दिशा-निर्देश आदि का समावेश है। ‘आईएमए’ के अध्यक्ष होसी कपाड़िया का कहना है कि स्वास्थ्य क्षेत्र को हमेशा अनदेखा किया जाता है इसलिए यह स्वास्थ्य मेनिफेस्टो बनाया गया है। आगामी सप्ताह यह मेनिफेस्टो सभी सदस्यों को आवंटित किए जाएंगे। एसोसिएशन का कहना है कि यह मेनिफेस्टो चुनाव से पहले इसलिए बनाया गया है ताकि राजनीतिक पार्टियां इस मेनिफेस्टो को अपने चुनावी घोषणापत्र में शामिल करें। जो पार्टियां इसे अपनाएंगी, उसे ही इस बार एसोसिएशन का चुनावी साथ मिलेगा।