भागवत को भी भरोसा नहीं!, भाजपा की सत्ता वापसी पर सर संघचालक भी सशंकित

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद भाजपा पुन: २०१९ में केंद्र की सत्ता में आ पाएगी, यह भरोसा खुद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत को भी नहीं है। हाल ही में भागवत ने ऐसी आशंका व्यक्त की है। नागपुर में सेवाधान स्कूल के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने उक्त बातें कही। राम मंदिर के संदर्भ में २ दिन पहले सरकार्यवाह भैया जी जोशी ने पत्रकारों से कहा था कि संघ राम मंदिर को लेकर अडिग है। सह सरकार्यवाह दत्तात्रय होसबोले ने ट्वीट करके कहा था कि भाजपा ने २०१४ के चुनावी घोषणापत्र में राम मंदिर का आश्वासन दिया था इसलिए सत्ताधारियों को राम मंदिर बनाना होगा। इस बारे में पूछे जाने पर मोहन भागवत ने कहा कि भैया जी जोशी ने जो भूमिका रखी है, वही हमारी भूमिका है।