भाजपा के फिसड्डी सीएम!

१५ राज्यों में इस समय भाजपा के सीएम हैं। मगर कामकाज की दृष्टि से देखा जाए तो जनता इनके कार्यों से संतुष्ट नहीं नजर आती। देश में हुए सबसे बड़े सर्वे के नतीजे बताते हैं कि देश के टॉप ३ सीएम में एक भी भाजपा का नहीं है। देश के टॉप ३ सीएम में पहले नंबर पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, दूसरे नंबर पर प. बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और तीसरे स्थान पर ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक हैं। चौथे नंबर की बात करें तो यहां नंबर बिहार के सीएम नीतीश कुमार हैं।
इस सर्वे में ५७ लाख लोगों ने अपनी राय रखी। इस तरह अगर टॉप के कामकाजी सीएम का जिक्र किया जाए तो भाजपा के सीएम फिसड्डी नजर आते हैं।
 सर्वे के मुताबिक आगामी चुनावों में महिला सुरक्षा, किसानों के मुद्दे और आर्थिक समानता सबसे अहम रह सकते हैं। इसके बाद जो मुद्दे खास होंगे, उनमें शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता, सांप्रदायिक सद्भाव, क्षेत्रीय भाषाएं आदि अहम रहेंगे।
पॉलिटिकल एडवाइजर ग्रुप ने एक सर्वे किया है। इस सर्वे से देश के मौजूदा राजनैतिक परिदृश्य का कुछ हद तक अंदाजा लग रहा है। हालांकि सर्वे में भाजपा के लिए खतरे की घंटी है। दरअसल इस सर्वे के मुताबिक देश के टॉप ३ सीएम में से एक भी भाजपा का सीएम नहीं है।  हालांकि पीएम पद के लिए अभी भी पीएम मोदी देश  के युवाओं की पहली पसंद बने हुए हैं। राहुल गांधी इस रेस में दूसरे स्थान पर काबिज हैं। बताया जा रहा है कि यह सर्वे देश के ५७ लाख लोगों पर किया गया है। दरअसल इस सर्वे में उन गैर-राजनैतिक लोगों के बारे में पूछा गया था, जिन्हें राजनीति में आना चाहिए। ऐसे लोगों में जो हस्तियां शुमार हुई हैं, उनमें आमिर खान, योग गुरु बाबा रामदेव, नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी, क्रिकेटर एमएस धोनी, सौरव गांगुली, पूर्व रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन, फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार और मशहूर उद्योगपति रतन टाटा का नाम शामिल है। बता दें कि यह सर्वे १८ साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के बीच किया गया है। सर्वे के लिए देश के ७,५३६ कॉलेज छात्रों की राय ली गई।