भाजपा गंभीर बीमार

स्वास्थ्य की दृष्टि से भाजपा इन दिनों बुरे दौर से गुजर रही है। भाजपा के कई वरिष्ठ नेता बीमार चल रहे हैं तो कई पिछले कुछ समय से गंभीर बीमारी के दौर से गुजरे हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह स्वाइन फ्लू से पीड़ित हैं और उन्हें एम्स में भर्ती किया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मोदी सरकार में दूसरा सबसे महत्वपूर्ण ओहदा संभालनेवाले वित्त मंत्री अरुण जेटली वैंâसर से जूझ रहे हैं और इलाज के लिए अमेरिका गए हैं। पिछले साल उनकी किडनी बदली गई थी। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की भी किडनी बदली गई थी और उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ने से मना कर दिया है। भाजपा के महासचिव रामलाल भी बीमार पड़ गए हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
पिछले कुछ दिन भाजपा नेताओं के लिए स्वास्थ्य के लिहाज से बुरे चल रहे हैं। भाजपा के कई वरिष्ठ नेता बीमार हैं। इन नेताओं में गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर, केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, रविशंकर प्रसाद और नितिन गडकरी शामिल हैं। मनोहर पर्रिकर कैंसर से जूझ रहे हैं तो जेटली और सुषमा स्वराज का किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था। फिछले दिनों नितिन गडकरी शुगर लो होने के कारण बेहोश हो गए थे। बीते मंगलवार को केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को सीने में दर्द के कारण एम्स में ही भर्ती कराया गया था। रविशंकर प्रसाद को सांस लेनेवाली नली में दिक्कत के बाद बीते सोमवार को एम्स में भर्ती कराया गया था। बुधवार को प्रसाद को एम्स के आईसीयू से प्राइवेट वार्ड स्थानांतरित किया गया है। उनकी हालत स्थिर है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव रामलाल भी बीमार हैं और उन्हें तेज बुखार के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर वैंâसर से जंग लड़ रहे हैं। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली भी बीमार चल रहे हैं। अप्रैल, २०१८ में उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां वह डायलसिस पर थे और बाद में १४ मई, २०१८ को उनका किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था। इस दौरान जेटली की अनुपस्थिति में वित्त मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी रेलमंत्री पीयूष गोयल को सौंपी गई थी। इससे पहले सितंबर, २०१४ में जेटली ने वजन कम करनेवाली बैरियाट्रिक सर्जरी कराई थी। केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपनी खराब सेहत के कारण आगामी चुनाव न लड़ने का एलान किया है। दरअसल, साल २०१६ में खराब तबीयत के कारण सुषमा को एम्स में भर्ती होना पड़ा था। इससे पहले वे दिल्ली में संसद मार्च के दौरान बेहोश होकर गिर पड़े थे। इस दौरान वे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री रहे अनंत कुमार का नवंबर में निधन हो गया था। दरअसल २०१८ में कर्नाटक विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान अनंत कुमार बीमार हुए थे।