" /> भीड़ करो कम!, अनावश्यक यात्रा टालो, -मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

भीड़ करो कम!, अनावश्यक यात्रा टालो, -मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

राज्य में कोरोना से संक्रमित ४१ मरीज पाए गए हैं। कल एक वृद्ध व्यक्ति की मौत हो गई है। शेष ४० में से ७ मरीजों में कम तीव्रता है जबकि एक मरीज की हालत गंभीर है। ३२ लोगों में कोरोना के लक्षण नहीं है। कुल मरीजों में २८ पुरुष व १३ स्त्रियों का समावेश है। यह जानकारी देने के साथ ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आम लोगों से आह्वान किया है कि वे भीड़ कम करें और अनावश्यक यात्रा को टालें।
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने स्पष्ट किया कि मंत्रालय सहित सरकारी कार्यालय बंद नहीं किए जाएंगे। परिस्थिति की सतत समीक्षा की जाएगी और योग्य निर्णय समय-समय पर लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि अत्यावश्यक सेवाओंवाली संस्थाओं को मर्यादित रूप से काम करने के लिए कहा गया है। मुंबई शहर के विशेषकर क्रॉफर्ड मार्वेâट परिसर में पक्षी व अन्य प्राणियों से संबंधित दुकानों को संसर्ग से होनेवाले खतरों को ध्यान में रखकर बंद किया जाएगा। केवल सब्जी की दुकानें खुली रहेंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के प्रभाव को रोकने के लिए राज्य सरकार प्रभावी तरीके से उपाययोजना कर रही है। निजी क्षेत्र की कंपनियों ने ‘वर्क प्रâॉम होम’ की कार्यपद्धति को स्वीकार किया है। रेलवे, बस आदि सार्वजनिक वाहन बंद नहीं किए जाएंगे। जरूरी हुआ तो नागरिकों को यात्रा करने के संबंध में आह्वान किया जाएगा। परिस्थिति की सतत समीक्षा की जा रही है। आवश्यकतानुसार आगे का निर्णय लिया जाएगा। औषधि, बैंकिंग संस्थानों के व्यवस्थापक प्रमुख और स्वास्थ्य क्षेत्र के विशेषज्ञों से चर्चा हुई। सभी लोगों ने संपूर्ण सहयोग देने की बात कही है। कंपनियों के सीएसआर फंड से औषधि, मास्क, सेनिटाइजर, वेंटिलेटर आदि सप्लाई की जाएगी। आवश्यकता पड़ने पर वेंटिलेटर व अन्य उपकरण स्थानीय बाजार से खरीदने का अधिकार जिला प्रशासन को है, ऐसा मुख्यमंत्री ने कहा। सरकारी व निम्न सरकारी कार्यालयों में नियमित काम चालू रहेगा। केवल इन स्थानों पर काम करनेवाले कर्मचारियों को स्वास्थ्य पर ध्यान देने का निर्देश दिया गया है। विदेशों से आनेवाले यात्रियों की हवाई अड्डे और बंदरगाह पर जांच शुरू है। उनके रहने के लिए अलग कक्ष की व्यवस्था की गई है। शहर के बड़े होटलों में कम दर पर अलग कक्ष की सुविधा की गई है, ऐसा मुख्यमंत्री ने बताया। कोरोनाग्रस्त मरीजों का उपचार निजी अस्पतालों में करने की सरकार ने अनुमति दी है। सभी धार्मिक स्थलों पर नियमित पूजा-अर्चना जारी रहते हुए केवल भक्तों की भीड़ रोकने का निर्देश दिया गया है। सार्वजनिक स्वच्छता गृह में सेनिटाइजर, साबुन और पानी उपलब्ध हो, इस पर ध्यान देने का निर्देश दिया गया है। केंद्र सरकार ने जिन ७ देशों के यात्रियों की सख्ती से क्वॉरंटाइन करने की सूचना दी है, उनके साथ राज्य सरकार ने दुबई, सऊदी अरबिया और अमेरिका के नागरिकों को भी शामिल कर लिया है।