भूमिगत मार्ग चाहिए तो जमीन दो, एमएमआरडीए का बीपीटी को प्रस्ताव

वडाला से जनरल पोस्ट ऑफिस (जीपीओ) इस मेट्रो-४ के विस्तारित मार्ग में ‘मुंबई पोर्ट ट्रस्ट’ (बीपीटी) की जमीन आ रही है। बीपीटी ने अपनी जमीन पर जानेवाले मार्ग को भूमिगत करने की मांग ‘मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण’ (एमएमआरडीए) से की थी। इस भूमिगत मार्ग का संपूर्ण खर्च पोर्ट ट्रस्ट दे, ऐसी भूमिका एमएमआरडीए प्रशासन ने ली है परंतु भूमिगत मार्ग का खर्च देने को ट्रस्ट तैयार नहीं है। इसके बदले में दक्षिण मुंबई की एकाध जमीन ट्रस्ट से मांगने का विचार एमएमआरडीए प्रशासन का है। वडाला-घाटकोपर-कासरवडवली इस ३२ किमी मेट्रो-४ मार्ग का आठ किमी विस्तारित मार्ग एमएमआरडीए प्रशासन बनानेवाला है। वडाला से जीपीओ के दरम्यान बननेवाले मार्ग पर अपेक्षित खर्च २,४०० करोड़ रुपए है। आठ किमी के संपूर्ण मार्ग में दो किमी मार्ग बीपीटी प्रशासन की जमीन में प्रस्तावित है। इस जमीन का बीपीटी प्रशासन ‘ईस्टर्न सीप्रâंट’ योजना अंतर्गत विकास करनेवाला है इसलिए बीपीटी ने अपनी जमीन पर भूमिगत मार्ग बनाने की मांग प्राधिकरण से की है। इस उन्नत मार्ग का एक किमी पट्टा बनाने पर ३०० करोड़ रुपए खर्च होनेवाला है, जबकि इस पट्टा पर भूमिगत मार्ग बनाने पर १,००० करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है इसलिए भूमिगत मार्ग के लिए दो हजार करोड़ रुपए बीपीटी प्रशासन दे, ऐसी भूमिका एमएमआरडीए ने ली लेकिन बीपीटी प्रशासन ने खर्च देने से इंकार कर दिया है। दो हजार करोड़ रुपए कीमत की जमीन ट्रस्ट से लेने का विचार एमएमआरडीए प्रशासन कर रहा है।