" /> मथुरा में मिला आठवां कोरोना पॉजिटिव, जिले में बढ़ी सतर्कता

मथुरा में मिला आठवां कोरोना पॉजिटिव, जिले में बढ़ी सतर्कता

मथुरा जिले में एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला है। शहर के बीच चौक बाजार के कच्ची सड़क निवासी 65 वर्षीय एकाउंटेंट की जांच रिपोर्ट गुरुवार की शाम पॉजिटिव आई है। इसकी जानकारी मिलने पर प्रशासन के साथ शहर के लोगों में भी हड़कंप है। यह पहला पॉजिटिव केस है, जो शहर के बीच आबादी क्षेत्र में मिला है।

पुलिस सहित स्वास्थ्य विभाग की टीम ने क्षेत्र में डेरा डाल दिया है। परिवार के 10 लोगों को जांच के लिए ले जाया गया, सभी को क्वारंटीन (एकांतवास) में रखा गया है। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या आठ हो गई है। जिले में सतर्कता बढ़ा दी गई है। आगरा जानेवाले पांच रास्तों को सील कर दिया गया है। चौक बाजार के कच्ची सड़क क्षेत्र निवासी 65 वर्षीय एकाउंटेंट के छोटे भाई बीमार होने के कारण पिछले लगभग 10 दिन से नयति अस्पताल में भर्ती थे। एकाउंटेंट भाई से मिलने के लिए नयति अस्पताल जाया करते थे, इसी दौरान एकाउंटेंट की तबीयत खराब हुई तो वो भी नयति अस्पताल में भर्ती हो गए।

निजी लैब ने दी सीएमओ को जानकारी
परिजन एकाउंटेंट की कोरोना जांच के लिए निजी लैब पर सैंपल भी दे चुके थे। 21 अप्रैल को नयति अस्पताल ने भी एकाउंटेंट के सैंपल लिए। गुरुवार को निजी लैब ने मथुरा सीएमओ को वृद्ध के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी। सीएमओ ने नयति प्रबंधन को इसकी जानकारी दे दी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम एकाउंटेंट के घर पहुंची। टीम ने परिवार के 10 लोगों को जांच के लिए अस्पताल में क्वारंटीन किया है। सभी के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए। पुलिस प्रशासन ने आसपास के इलाके को सील कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम संक्रमित मरीज के संपर्क में आनेवालों की सूची बना रही है।

प्रशासनिक अधिकारियों से मंत्रणा के बाद पुलिस ने गुरुवार को आगरा से मथुरा आनेवाला प्रत्येक रास्ता सील कर दिया। इन रास्तों पर पुलिस ने बैरियर लगा दिए हैं। बल्देव सहित कई सीमाओं पर आसपास रहनेवालों को भी इस संबंध में सतर्क किया गया है। भरतपुर, पलवल तथा नोएडा मार्ग पर सख्ती बढ़ा दी गई है।

ये रास्ते किए गए सील
पुलिस द्वारा आगरा सीमा से सटे सेहत गांव, कंजौली घाट तथा नेरा बार्डर को सील कर दिया गया है। इसके अलावा पुलिस ने एनएच-2 तथा एक्सप्रेस वे की सीमाएं भी सील कर दी हैं। एसपी देहात श्रीश चंद्र ने बताया कि हमने आगरा से आने-जानेवाले सभी रास्ते सील कर दिए हैं। अब इन रास्तों से कोई भी व्यक्ति आ जा नहीं सकेगा।
सीमाओं की सीलबंदी में प्रत्येक स्थान पर एक दर्जन पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। रोस्टर सिस्टम से यहां पर पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। विशेष परिस्थिति में यदि कोई व्यक्ति सीमा को पार भी करेगा तो उसकी बाकायदा जानकारी रखी जाएगी और स्क्रीनिंग के बाद ही वह आगरा आ-जा सकेंगे।