मथुरा से बांग्लादेशी धराए, फर्जी दस्तावेज और सिम बरामद

मथुरा पुलिस ने तीन बांग्लादेशियों को गिरफ्तार किया है। खबर है कि ये सभी पिछले कई साल से राया रोड पर झोपड़ी बनाकर ह रहे थे। जबकि इनके दो साथी फरार हो गए। इनके पास से फर्जी नाम-पता वाला आधार कार्ड और मोबाइल का सिम भी मिला है। पुलिस इनके कॉल डीटेल्स भी खंगाल रही है जिससे इनके संबंधों के बारे में ज्यादा जानकारी मिल पाएगी। ये सभी लोग जिसके प्लॉट में झोपड़ी बनाकर रह रहे थे, पुलिस उसकी भी तलाश कर रही है। खुफिया एजेंसियों को सूचना मिल रही थी कि कुछ बांग्लादेशी राया रोड पर झोपड़ी डालकर रह रहे हैं। एलआईयू की टीम ने सोमवार को पुलिस के सहयोग से मौके से रिहान शेख उर्फ ओपो पुत्र जलाल शेख, नजमुल पुत्र अनार शेख और राशिल पुत्र असताफ को गिरफ्तार कर लिया।  जिन झोपड़ियों में यह लोग रह रहे थे उनमें तलाशी ली गई तो वहां फिलहाल कोई संदिग्ध दस्तावेज हाथ नहीं लगा, लेकिन मौके पर उनके फर्जी नाम-पता वाला आधार कार्ड मिला है। अफसरों ने बताया कि इन लोगों का आधार कार्ड कैसे बन गया इसकी भी जांच कराई जा रही है। यह आधार कार्ड जाली माने जाएंगे।