" /> मनपा को सुपुर्द ओपन अस्पताल

मनपा को सुपुर्द ओपन अस्पताल

20 करोड़ की लागत
1,008 बिस्तरों का है अस्पताल

मुंबई के पश्चिम उपनगर में मौजूद बीकेसी ग्राउंड में मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने 15 दिन के भीतर ही 1,008 बिस्तरों वाला कोविड-19 केयर सेंटर वाला ओपन अस्पताल बनाकर तैयार कर दिया है। कल इस अस्पताल को एमएमआरडीए ने मनपा को सुपुर्द कर दिया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी मौजूद थे।
बता दें कि मुंबई के बीकेसी ग्राउंड में देश का पहला ओपन अस्पताल बनाकर तैयार हो गया है। 1,008 बिस्तरों वाले इस अस्पताल में मरीजों के रहने, ऑक्सीजन और जांच की पूरी सुविधा है। अस्पताल में नॉन क्रिटिकल संक्रमितों का उपचार किया जाएगा। इस अस्पताल के निर्माण की शुरुआत प्राधिकरण ने 2 मई को की थी और 16 मई को ओपन अस्पताल बनकर तैयार हो गया। इस अस्पताल का कुल खर्च तीन महीने के लिए 20 करोड़ रुपए बताया जा रहा है। यदि अस्पताल को तीन महीने से अधिक समय के लिए इस्तेमाल के लिए लाया गया तो छत के किराए का खर्च अधिक होगा। 1,008 बेड में से 504 बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा नहीं होगी, जबकि 504 अन्य बेड पर 240×40 मीटर क्षेत्र में ऑक्सीजन की सुविधा होगी। इसके अलावा कोरोना संक्रमित मरीजों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए वॉशरूम व स्वच्छता गृह की भी व्यवस्था की गई है। आगामी मॉनसून को ध्यान में रखते हुए अस्पताल को तैयार किया गया है। ओपन अस्पताल सवा लाख वर्ग फुट में तैयार किया गया है। 11 मई को अग्निशमन दल के अधिकारियों ने अस्पताल का जायजा लिया था। अस्पताल में स्टोरेज सुविधा सहित पैथोलॉजी, ईसीजी और एक्सरे मशीन की व्यवस्था है। हालांकि इस अस्पताल में कोविड-19 मरीजों की जांच नहीं होगी। बल्कि केअर सेंटर में जिन मरीजों में कोरोना के लक्षण उनकी जांच की जाएगी। अस्पताल में रोजाना सुबह नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात के भोजन की व्यवस्था होगी। गौरतलब है कि महानगर आयुक्त की अध्यक्षता में लगभग 350 कर्मचारी और एमएमआरडीए के 70 अधिकारियों ने 24 घंटे काम कर 15 दिन के भीतर इस अस्पताल को बनाकर तैयार कर दिया।