बूंद-बूंद पानी को तरसते मनमाडकर , मात्र 7 दिन का पानी शेष

मनमाड में बरसात की कम होने के कारण मनमाडवासियों को गर्मी शुरू होने से पहले ही पानी  की बूंद-बूंद से तरसते नजर आ रहे हैं।  मनमाड शहर को पानी आपूर्ति करनेवाला वाघदर्डी बांध पूरी तरह सूख गया है। बांध का तल हिस्सा पूरी तरह से दिखने लगा है। इस विकट परिस्थिति में 16 दिन के बाद एक घंटे पानी की आपूर्ति मनमाडकरों को हो रही है। पानी की कमी के कारण मनमाडकरों को काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

मुख्य जलवाहिनी के रिसाव को बंद करने का काम कई जगहों पर चलने के कारण 23 दिन के बाद पानी की आपूर्ति शहरवासियों को की गई। जिसके कारण हैरान परेशान शहरवासियों को डर सताने लगा है कि कहीं पानी की आपूर्ति और कम कर दी जाए। बता दें कि इस वर्ष मानसून कम आने के कारण वाघदर्डीर् बांध में पानी पूरा जमा न हो सका। इस कारण शहर की पूरी जवाबदारी पालखेड
बांध के रोटेशन पर है।
पालखेड बांध समूह ने इस वर्ष संभाजीनगर को पानी देने के कारण इसमें पानी कम बचा हुआ है। पालखेड बांध समूह में अवघा में 4 फीसदी, वाघाड में 24 व करंजण में 47 फीसदी ही पानी बचा हुआ है। इस कारण गर्मी के दिनों में मनमाडकरों को गंभीर पानी की समस्या से जूझना पड़ सकता है।