महात्मा फुले योजना से बेदखल मनपा के ३ अस्पताल

मनपा के ३ अस्पतालों को एक बड़ा झटका लगा है। अच्छा परफॉर्मेंस न करने व गरीबों तक मेडिकल सुविधा न उपलब्ध कराने के कारण अस्पतालों को महात्मा ज्योतिराव फुले जन स्वास्थ्य योजना (एमपीजेएवाई) के पैनल से बेदखल कर दिया गया है। मनपा के अधिकारी सरकार के इस फैसले से सकते में हैं क्योंकि इन अस्पतालों में बिल्डिंग निर्माण व मरम्मत का काम जारी है। बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है कि मनपा के ३ उपनगरीय अस्पतालों कुर्ला भाभा, एमटी अग्रवाल मुलुंड और विक्रोली के वीर सावरकर अस्पतालों को एमपीजेएवाई के अंतर्गत आनेवाले ४५९ अस्पतालों के पैनल से निकाला गया है। उक्त योजना के अंतर्गत गरीब रोगियों को १.५ लाख रुपए तक की मदद सरकार की तरफ से मिलती है। ऐसे में इन अस्पतालों से सेवा खत्म करना सीधे गरीब रोगियों पर गाज है। मनपा के उपनगरीय अस्पतालों के प्रमुख डॉ. शशिकांत वाडेकर से बताया कि बिना किसी नोटिस के ही अस्पतालों को बाहर कर दिया गया है। इस बारे में हमें मिले मेल के अनुसार, इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी, अस्पतालों में मरम्मत का काम और सुविधाओं में कमी का कारण बताकर पैनल से निकाल दिया गया है।