" /> महोबा में कुंए की खुदाई में धंसकी मिट्टी के नीचे दबे सात लोग, रेस्क्यू कर दो लोगों के शव निकाले

महोबा में कुंए की खुदाई में धंसकी मिट्टी के नीचे दबे सात लोग, रेस्क्यू कर दो लोगों के शव निकाले

उत्तर प्रदेश के महोबा में एक बड़ा हादसा हो गया। कोतवाली के दमौरा गांव में कुएं की खुदाई के दौरान मिट्टी धंसकने से सात मजदूर मालबे में दब गए। पुलिस ने रेस्क्यू शुरू किया दो भाइयों के शव निकले, बाकी घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। मंगलवार को दमौरा गांव के घुटवाइ मौजा में किसान रामनरेश खंगार के खेत में लघु सिंचाई विभाग का कुंआ खोदा जा रहा था।

खुदाई के दौरान एकाएक मिट्टी का एक बड़ा भाग धसक गया। खुदाई में लगे गनपत कुशवाहा, उसके बेटे महेंद्र व रतिराम, दामाद शाहपहाडी, 22 वर्षीय लल्लू, रामपाल व राम सिंह मिट्टी में दब गए, इससे वहां हाहाकार मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस टीम ने रेस्क्यू शुरू कर दिया।

मौके से रामपाल, गनपत सहित अन्य घायलों को निकाला गया और उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जबकि गनपत के बेटे महेंद्र व रतिराम की मौके पर मौत हो गई। अपर पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार, उप जिलाधिकारी सदर राजेश कुमार यादव समेत तमाम अफसर भी मौके पर पहुंचे। दोनों भाइयों के शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।