मां के हत्यारे को मिली जमानत

मां की हत्या के आरोप में लगभग २ साल से जेल में बंद रहने के बाद आरोपी को अंतत: जमानत मिल ही गई। आरोपी एक पुलिस अधिकारी का बेटा है।
बता दें कि विलेपार्ले पुलिस थाने में तैनात पीआई ज्ञानेश्वर गनोरे के बेटे सिद्धांत गनोरे ने २३ मई, २०१७ को अपनी मां दीपाली की अपने ही घर में चाकू से गोद कर हत्या कर दी थी। अपनी मां का कत्ल करने के बाद उसने खून से स्माइली बनाया था और पुलिस को चुनौती देते हुए लिखा था ‘वैâच मी इफ यू वैâन।’ इस मामले में वाकोला पुलिस द्वारा गिरफ्तारी के बाद सिद्धांत ने पुलिस को बताया था कि वह अपनी मां के सख्त रवैये से नाराज था। बेटे द्वारा पत्नी की हत्या से आहत होने के बावजूद ज्ञानेश्वर गनोरे ने फरवरी, २०१८ में सिद्धांत की जमानत के लिए सत्र न्यायालय में अर्जी दी थी। सिद्धांत की मानसिक स्थिति ठीक न होने की दुहाई देते हुए ज्ञानेश्वर गनोरे ने उसे जमानत देने की गुहार लगाई थी लेकिन उस समय जेजे अस्पताल के डॉक्टरों ने अपनी रिपोर्ट में सिद्धांत की मानसिक स्थिति ठीक होने का दावा किया था इसलिए कोर्ट ने जमानत अर्जी खारिज कर दी थी, जिसके बाद ज्ञानेश्वर गनोरे ने उच्च न्यायालय में जमानत की गुहार लगाई थी। कल उच्च न्यायालय के न्यायाधीश अजय गडकरी ने सिद्धांत को २५ हजार रुपए के निजी मुचलके पर रिहा कर दिया। कोर्ट ने सिद्धांत को ३ महीने में एक बार संबंधित पुलिस थाने में हाजिरी लगाने का निर्देश दिया है।