मां निकली मासूम की हत्यारी बेटी के जन्म से थी बौखलाई

मुंबई में एक मां ने अपनी हरकत से ‘मां’ शब्द की गरिमा को शर्मसार कर दिया। उसने १६ दिन की अपनी मासूम बेटी को नाले में फेंक दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। आशंका जताई जा रही है कि उसे और उसके पति को बेटे की आस थी लेकिन बेटे की बजाय बेटी का जन्म होने से वह बौखला गई।

बता दें कि सायन के सुंदर कमला नगर स्थित मदीना मस्जित के पास रहनेवाले नदीम अहमद अंसारी ने १९ मार्च को अपनी १६ दिन की नवजात बच्ची आसी के गुमशुदगी (अपहरण) की शिकायत सायन पुलिस थाने में दर्ज कराई थी। पेशे से बढई नदिम ने पुलिस को बताया था कि उसकी पत्नी शमा पहली मंजिल पर स्थित अपने घर में आसी को सोता छोड़कर शौच के लिए नीचे गई थी लेकिन जब वह वापस लौटी तो आसी घर से गायब थी। २० मार्च को रात 1 बजे के करीब नदीम ने मकान के पीछे नाले में आसी के मिलने की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसी को सायन अस्पताल पहुंचाया लेकिन अस्पताल में डॉक्टरों ने आसी को मृत घोषित कर दिया। बाद में सायन पुलिस ने मासूम के अपहरण के मामले में हत्या की धारा भी जोड़ दी। डीसीपी डॉक्टर सौरभ त्रिपाठी एवं एसीपी शरद नाईक के मार्गदर्शन व वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ललिता गायकवाड के नेतृत्व में मामले की जांच कर रही सायन पुलिस के समक्ष पूछताछ के दौरान समा टूट गई और उसने अपनी मासूम बेटी की हत्या का गुनाह कबूल कर लिया। हालांकि पुलिस ने शमा को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन आसी की हत्या की वास्तविक वजहों का खुलासा नहीं हो सका है।