मायानगरी मुंबई बनी रेप नगरी!

देश की आर्थिक राजधानी मायानगरी मुंबई अब रेप नगरी बनती जा रही है। एक ताजा आंकड़ों के मुताबिक मुंबई में बलात्कार की घटना में तेजी से इजाफा हो रहा है। वर्ष २०१७ की तुलना में वर्ष २०१८ में बलात्कार के मामले २० फीसदी बढ़े हैं। सबसे हो रही है।
बता दें कि पूर्वी उपनगर के मानखुर्द इलाके में बीते दिनों महज आधे घंटे में एक महिला के साथ दो बार सामूहिक बलात्कार होने की घटना अभी ताजा ही है। इस घटना से शहर में महिला सुरक्षा की पुख्ता दावा करनेवाली मुंबई पुलिस की पोल खुल गई है। यह कोई पहली घटना नहीं है, ऐसी वारदातें शहर में अब आम हो चली हैं। पुलिसिया आंकड़ों पर भरोसा करें तो वर्ष २०१७ में १,२१८ बलात्कार की घटनाएं घटीं थीं जबकि वर्ष २०१८ में १,४५९ बलात्कार मामले शहर और उपनगर के पुलिस स्टेशनों में दर्ज हैं। आंकड़ों का अगर आकलन करें तो वर्ष २०१७ के मुकाबले वर्ष २०१८ में बलात्कार के मामलों में २० प्रतिशत का इजाफा हुआ है। वर्ष २०१८ में ८८९ मामले महिलाओं के साथ बलात्कार के दर्ज हुए हैं। जबकि ५७० बलात्कार मामले नाबालिगों के दर्ज हुए हैं। सिर्फ बलात्कार ही नहीं हत्या की घटनाएं भी यहां बढ़ रही हैं। वर्ष २०१७ के मुकाबले वर्ष २०१८ में हत्या के ३७ मामले अधिक दर्ज हुए हैं। वर्ष २०१७ में हत्या के १२७ मामले दर्ज हुए थे जबकि २०१८ में हत्या के १६४ मामले दर्ज हुए हैं। अपराधों को रोकने के लिए मुंबई पुलिस के आधुनिक सर्विलेंस के दावे की पोल इन्हीं आंकड़ों से खुल गई है।
२० फीसदी बढ़े बलात्कार के मामले
३७ हत्या ज्यादा हुई
पोक्सो के ५७० मामले दर्ज