मार्क का कहर

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच साउथैम्पटन में हुए मुकाबले में तेज गेंदबाज जोप्रâा मार्क वुड ने अपना कहर ढाया। उनकी गेंदों का सामना करने में वेस्टइंडीज के बल्लेबाज असफल रहे, यही वजह है कि ४५ ओर के अंदर ही वेस्टइंडीज की पारी २१२ रन पर खत्म हो गई। इंग्लैंड के लिए सबसे सफल गेंदबाज मार्क वुड को दूसरे गेंदबाज जोफ्रा आर्चर का अच्छा साथ मिला और उन्होंने नौ ओवर में ३० रन देकर ३ विकेट हासिल किए। मैच के सबसे सफल गेंदबाज मार्क वुड ने तो ४० गेंदों में सिर्फ १८ रन देकर तीन विकेट झटके। मार्क वुड ने शाई होप, आंद्रे रसेल और शैनन गेब्रियाल के विकेट झटके। वहीं जो रूट ने २ विकेट लिए। इनके अलावा क्रिस वोक्स और प्लंकेट १-१ विकेट झटकने में कामयाब रहे। कल इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में यूनिवर्स बॉस क्रिस गेल का जादू भी नहीं चल पाया। हालांकि गेल को १५ के स्कोर पर एक जीवनदान भी मिला। क्रिस वोक्स की गेंद पर थर्ड मैन बाउंड्री पर खड़े मार्क वुड ने उनका कैच टपकाया। लेकिन गेल इस जीवनदान का फायदा नहीं उठा सके। गेल के आउट होने के दो गेंद बाद उनका साथ दे रहे शाई होप भी मार्क वुड की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए। हालांकि फील्ड अंपायर ने पहले उन्हें नॉट आउट करार दिया लेकिन डीआरएस में यह फैसला बदल गया। होप ने ३० गेंद में ११ रन की पारी खेली। वेस्टइंडीज के तीन विकेट गंवाने के बाद एक छोर थामने वाले निकोलस पूरन अपनी अर्धशतकीय पारी को और बड़ी नहीं कर सके। उन्होंने ५६ गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। इससे पहले उन्होंने चौथे विकेट के लिए हेटमायर के साथ ९० रन की साझेदारी की। लेकिन ऑर्चर की एक गेंद उनके दस्तानों को छूती हुई विकेटकीपर जोस बटलर के हाथों में समा गई और पूरन को पवेलियन वापस लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा। पूरन ने ७८ गेंद में ६३ रन की पारी खेली। इसके बाद अगली ही गेंद पर आर्चर ने बल्लेबाजी करने आए शेल्टन कॉट्रेल को एलबीडब्ल्यू कर पवेलियन वापस भेज दिया। वो अपना खाता भी नहीं खोल पाए। इसके बाद ब्रेथवेट और गैब्रियल ने भी अपना विकेट गंवा दिया और पूरी कैरेबियाई टीम २१२ रन पर ढेर हो गई।