माल्या का जहाज, है दगाबाज

लिकर किंग के नाम से मशहूर कारोबारी विजय माल्या हिंदुस्थानी बैंकों को ९,००० करोड़ से अधिक का चूना लगाकर विदेश भाग चुका है। लंदन में ऐशोआराम की जिंदगी जी रहा माल्या देश की भाजपा सरकार को मुुंह चिढ़ा रहा है तो वहीं मुंबई एयरपोर्ट में खड़ा माल्या का प्यारा प्लेन भी कम दगाबाज नहीं है। एयरपोर्ट पर खड़ा प्लेन एयरपोर्ट अथॉरिटी को हर घंटे १५ हजार रुपए की चपत लगा रहा है।
बता दें कि सेवा कर विभाग ने दिसंबर २०१३ में विजय माल्या की किंगफिशर एयरलाइंस का विमान ए-३१९ को जप्त किया गया था लेकिन इस विमान को बेचने की कोशिश नाकाम रही थी, जिसके कारण अब यह विमान एयरपोर्ट प्रशासन के गले की हड्डी बन गया है। हिंदुस्थान में जेट विमान संचालकों का कहना है कि एयरपोर्ट पर प्लेन के पार्किंग के बदले में प्रति घंटे के लिए पांच से १५ हजार रुपए देने पड़ते हैं। विमान के आकार की तुलना में ही शुल्क निर्भर करता है लेकिन सरकारी प्राधिकरण द्वारा इस जेट विमान को जप्त किए जाने के कारण एयरपोर्ट पर उसे मुफ्त में रखा गया है। इस हिसाब से एयरपोर्ट प्रशासन को अब तक लगभग ६५,७०,००,००० रुपए का चूना लग चुका है। विमान के जगह घेरने से असुविधा हो रही है सो अलग। इस बारे में पिछले साल मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (एमआईएएल) ने मुंबई हाईकोर्ट से विमान को हटवाने की भी गुहार लगाई थी। गौरतलब हो कि यह माल्या का पसंदीदा प्लेन रहा है, जिसमें शानदार बेडरूम के साथ, डाइनिंग स्पेस, शॉवर, ऑफिस एरिया, बार आदि की सुविधाएं हैं।