" /> मीरा-भाइंदरकरों को बड़ी दिलासा : शीघ्र शुरू होगा एक हजार बेड का कोविड अस्पताल व टेस्ट लैब

मीरा-भाइंदरकरों को बड़ी दिलासा : शीघ्र शुरू होगा एक हजार बेड का कोविड अस्पताल व टेस्ट लैब

राज्य सरकार ने दी मान्यता
शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने की थी मांग
सभी के सहयोग से शहर को करेंगे कोरोना मुक्त -डॉ. राठौड़

मीरा-भाइंदर वासियों को एक हजार बेड की आधुनिक क्षमतावाले कोविड अस्पताल की सुविधा शीघ्र ही उपलब्ध हो जाएगी। साथ ही सिंधुदुर्ग और रत्नागिरी की तरह यहां भी कोविड जांच के लिए लेबोरेटरी की शुरुआत भी हो जाएगी। इसकी मंजूरी राज्य सरकार ने दी है, ऐसी जानकारी शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने दी। रविवार को सरनाईक के साथ मीरा-भाइंदर मनपा के नवनियुक्त आयुक्त डॉ. विजय राठौड़ ने कोरोना महामारी की रोकथाम व इसके उपचार के लिए की गई उपायोजनाओं और व्यवस्था का जायजा लिया। इस अवसर पर सार्वजनिक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता दीपक खांबित व अन्य मनपाकर्मी भी उपस्थित थे। एक हजार बेड के कोविड अस्पताल के लिए मीरा रोड (पूर्व) स्थित कनकिया परिसर में स्टार बाजार के सामने रिक्त पड़े एक भूखंड का चयन किया गया है। कोविड अस्पताल तथा कोविड जांच के लेबोरेटरी की मांग सरनाईक ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से की थी, जिसे शीघ्र अनुमति दे दी गई है।

– मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का स्पष्ट निर्देश है कि कोविड अस्पतालों में बेड खाली रहेंगे तो चलेगा लेकिन अस्पतालों में बेड न मिलने के कारण किसी की कोरोना से मृत्यु हो गई, ऐसा नही होना चाहिए। मीरा-भाइंदर शहर में भी कोरोना पीड़ित मरीजों की संख्या निरंतर बढ़ रही थी, इसलिए एक हजार बेड के आधुनिक कोविड अस्पताल तथा कोविड टेस्ट लैब की मांग मैंने मुख्यमंत्री ठाकरे से की थी, जिसे उन्होंने तुरंत मान्यता दे दी है। आगामी तीन सप्ताह के अंदर शहरवासियों को यह दोनों सुविधा उपलब्ध हो जाएंगी। मीरा-भाइंदरकरों को कोरोना मुक्त करने के लिए हर संभव प्रयास किए जायेंगे।
– प्रताप सरनाईक (शिवसेना विधायक- ओवला माजीवाड़ा)

– शहर के सभी नागरिकों को कोविड से संबंधित दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करना चाहिए। हम सभी के सहयोग से ही कोरोना महामारी को मात दे सकते हैं और सभी के सहयोग से ही हम इस शहर को कोरोना मुक्त करेंगे।
– डॉ. विजय राठौड़ (एमबीएमसी आयुक्त)