" /> मीरा-भाइंदर के कामगारों के लिए ट्रेन व बंद कारखानों को शीघ्र शुरू करने की मांग

मीरा-भाइंदर के कामगारों के लिए ट्रेन व बंद कारखानों को शीघ्र शुरू करने की मांग

शिवसेना नगरसेविका स्नेहा पांडे ने मीरा-भाइंदर मनपा आयुक्त चंद्रकांत डांगे से मुलाकात कर उत्तर भारत के उत्तरप्रदेश, बिहार, झारखंड, के कामगारों व गरीब जनता के लिए शीघ्र ट्रेन शुरू करने की मांग की तथा इस आशय का निवेदन पत्र भी डांगे को सौंपा। पांडे ने अपने निवेदन पत्र में लिखा है कि मीरा-भाइंदर शहर में बड़ी संख्या में उत्तर भारत के मजदूर छोटी-बड़ी स्टील कंपनियों में कार्य करते हैं। उनके मूल गांव जाने के लिए कोई सुविधा न होने के कारण उन्हें पैदल ही अपने गांव जाने को मजबूर होना पड़ रहा है।
इस अवसर पर महाराष्ट्र स्टील उद्योग एसोशिएशन के अध्यक्ष शैलेश पांडे ने भी मनपा आयुक्त डांगे को एक लिखित ज्ञापन सौंपा, जिसमें उन्होंने मांग की है लॉक डाऊन की वजह से विगत ५३ दिनों से मीरा-भाइंदर का स्टील उद्योग पूरी तरह से बंद है। मजदूर यहां से पलायन कर रहे हैं। उनके पलायन को रोकने के लिए कुछ आवश्यक शर्तों व नियमों के साथ यहां के स्टील कारखानों को शुरू करने की अनुमति प्रदान करें। ताकि अब तक जो मजदूर यहां रुके हैं, उनको कार्य मिल सके क्योंकि इस समय जो मजदूर यहां से जिन परिस्थितियों में पलायन कर रहे हैं। उसे देखकर नहीं लगता कि वे आठ-दस महीने तक यहां वापस लौटेंगे। भारतीय स्टील बफिंग ऑपरेटर एशोसिएशन के अध्यक्ष अखिलेश उपाध्याय और सुबोध मिश्रा ने भी स्टील कारखानों को शीघ्र शुरू करने की मांग की है।