मीरा-भाइंदर मनपा में ‘मी टू’, विशाखा समिति के समक्ष होगी सुनवाई

‘मी टू’ के जाल में जहां कई दिग्गज बेनकाब हुए हैं, वहीं मीरा-भाइंदर मनपा में भी ‘मी टू’ के दो मामले उजागर हुए हैं। जिसकी सुनवाई सोमवार को विशाखा समिति के समक्ष होगी। मनपा के स्वास्थ्य विभाग के दो कर्मचारियों के खिलाफ दो महिलाकर्मियों ने शिकायत की है, जिसमें से एक महिला स्वास्थ्य विभाग की कर्मचारी है तो दूसरी महिला बाहरी बताई जा रही है।
राज्य सरकार के निर्देशानुसार कार्यस्थल पर लैंगिक शोषण की शिकार महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए विशाखा समिति की स्थापना अनिवार्य की गई है। इसी के अनुसार मीरा-भाइंदर मनपा में भी विशाखा समिति की स्थापना की गई है। इस समिति के समक्ष हाल ही में ‘मी टू’ की दो शिकायतें आई हैं। मनपा के स्वास्थ्य विभाग से संबंधित दो व्यक्तियों के खिलाफ यह शिकायत की गई है, लेकिन उनके नाम अभी गुप्त रखे गए हैं। जिसके कारण यह शिकायत किसके खिलाफ है इसकी मनपा परिसर में जोरों से चर्चा चल रही है। मनपा में स्थापित विशाखा समिति के अध्यक्ष अतिरिक्त आयुक्त माधव कुसेकर और उपाध्यक्ष स्वास्थ्य विभाग के उपायुक्त डॉ. संभाजी पानपट्टे हैं। कुल १० सदस्यों की समिति में बाकी आठ सदस्य मनपा के विभिन्न विभागों में कार्यरत महिला अधिकारी, कर्मचारी, डॉक्टर, मुख्याध्यापिका और सामाजिक संस्था की पदाधिकारी महिलाओं का समावेश है।