मीरा-भाइंदर में मेट्रो का हुआ श्रीगणेश, शिवसेना के प्रयासों को मिला यश

मीरा-भाइंदर शहर के लाखों प्रवासी के ड्रीम प्रोजेक्ट मीरा-भाइंदर मेट्रो के कार्य का ९ सितंबर सोमवार के दिन श्रीगणेश हुआ। शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक इसके लिए विगत १० वर्षों से सतत संघर्षरत और प्रयत्नशील थे। सोमवार को मेट्रो के प्रस्तावित स्थानों पर बैरिकेड लगाकर भूमि तांत्रिक जांच (जियोटेक्निकल इन्वेस्टिगेशन) का शुभारंभ हुआ। मीरा-भाइंदर मेट्रो प्रकल्प पर ६ हजार ६०७ करोड़ रुपए खर्च अपेक्षित है।
सोमवार को मीरा-भाइंदर मेट्रो प्रकल्प के प्रस्तावित स्थानों काशीमीरा नाका, झंकार कंपनी, साईबाबा नगर और दीपक हॉस्पिटल के पास भूमि तांत्रिक जांच के कार्य शुरू किए गए। करीब ११.१९२ किमी के मीरा-भाइंदर मेट्रो मार्ग में कुल ८ स्टेशन होंगे। जिसमें दहिसर, पांडुरंग वाड़ी, मीरा गांव, काशी गांव, साईबाबा नगर, मेड़तिया नगर, शहीद भगतसिंह उद्यान, सुभाषचंद्र बोस स्टेडियम का समावेश है। मेट्रो मार्ग के लिए भाइंदर पाड़ा और दहिसर में कारशेड प्रस्तावित है।
मीरा-भाइंदर मेट्रो प्रकल्प का कार्य शुरू हो जाने पर सरनाईक ने मीरा-भाइंदर व ठाणेकरों की तरफ से शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव साहेब ठाकरे व युति के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस व युति के सभी नेताओं का विशेष आभार व्यक्त किया।