मुंबईकरों को पानी का ‘नो टेंशन’

राज्य के कई जिलों में भले ही अकाल छाया हुआ है लेकिन मुंबई में पानी का टेंशन न होने की बात कल मनपा जल विभाग ने स्पष्ट कर दी है। आगामी वर्ष अगस्त माह तक मुंबईकरों को बिना कटौती के पानी को आसानी से सप्लाई किया जा सकती है, इतना पानी झीलों में जमा है।
बता दें कि मुंबई को वर्षभर पानी सप्लाई करने के लिए १४ लाख ३६ हजार ३६३ मिलियन लीटर पानी की आवश्यकता है। यह पानी अपर वैतरणा, मध्य वैतरणा, तुलसी, भातसा, मोडक सागर, तुलसी और विहार झील से सप्लाई किया जाता है। वर्तमान में इन झीलों में पिछले वर्ष की तुलना में २,११,६२६ मिलियन लीटर पानी कम है। इन झीलों में फिलहाल ११,६८,४२१ मिलियन लीटर पानी जमा है जबकि पिछले वर्ष इसी समय झीलों में १३,८०,०४७ मिलियन लीटर पानी था। कल स्थायी समिति की बैठक में मुंबई के कई भागों में जारी पानी के संकट का मुद्दा गरमाया था। कई सदस्यों ने प्रशासन पर पानी कटौती का आरोप भी लगाया। सदस्यों के इन आरोपों पर स्पष्टीकरण देते हुए प्रशासन ने बताया कि वर्तमान में झीलों के मौजूदा जलस्तर से मुंबई को अगस्त तक बिना कटौती के सप्लाई किया जा सकता है।