मुंबई के लिए एक ही प्राधिकरण हो–उद्धव ठाकरे,  उद्धव ठाकरे ने लिया मानॅसून पूर्व कार्यों का जायजा  महापौर, आदित्य ठाकरे की उपस्थिति में हुई बैठक

मुंबई में मनपा सहित एमएमआरडीए, म्हाडा, एमएसआरडीसी, मुंबई पोर्ट ट्रस्ट ऐसे कई प्राधिकरण हैं। मूसलाधार बारिश या अन्य कोई आपदा की स्थिति होती है तो केवल मनपा पर ही कटाक्ष किया जाता है। पूरा ठीकरा मनपा पर फोड़ा जाता है। इसलिए मुंबई के लिए एक ही प्राधिकरण होना चाहिए, ऐसा प्रतिपादन शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने किया। मूसलाधार बारिश के समय नागरिकों को परेशानी होने की संभावना कई बार बनी रहती है। इसलिए मनपा दवाखाना, स्कूल, मनपा के विभागीय कार्यालयों आदि जगहों का इस्तेमाल नागरिक कर सकें इसके लिए संबंधित जगहों पर दिशा दर्शानेवाला फलक लगाओ, ऐसा निर्देश उद्धव ठाकरे ने प्रशासन को दिया।

मॉनसून मुहाने पर है। इस परिप्रेक्ष्य में शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने कल महापौर, मनपा आयुक्त की उपस्थिति में महत्वपूर्ण बैठक लेकर मनपा द्वारा किए जा रहे मॉनसून पूर्व कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान मुंबई के जल जमाववाले क्षेत्रों में पानी की निकासी के लिए जहां ३२२ पंप लगाए गए हैं, वहीं २,७६५ मैनहोल में लोहे की जाली लगाकर उन्हें सुरक्षित किए जाने का दावा मनपा प्रशासन ने बैठक में किया। साथ ही नाला सफाई का काम अंतिम चरण में होने की बात भी प्रशासन ने कही है। इस बैठक में शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे भी उपस्थित थे।

भायखला स्थित महापौर बंगले में कल महापौर विश्वनाथ महाडेश्वर की अध्यक्षता में हुई बैठक में मनपा के मॉनसून पूर्व कार्यों का जायजा लिया गया। इस दौरान प्रशासन ने मॉनसून से निपटने के लिए की गई उपाय योजनाओं का प्रस्तुतिकरण दिया। मुंबई के २,७६५ मैनहोल में लोहे की जालियां लगाकर उन्हें सुरक्षित किए जाने की जानकारी भी प्रशासन ने इस दौरान दी।
जल जमाववाले क्षेत्रों में आवश्यकतानुसार पंप लगाए जाने की बात भी प्रशासन ने स्पष्ट की। बारिश में सड़कों पर होनेवाले गड्ढों की मरम्मत के लिए सभी वॉर्डों में आवश्यकतानुसार कोल्ड मिक्स वितरीत किए किया गया है, इसके अलावा डेगू, मलेरिया के रोकथाम के लिए उपाययोजना भी की गई हैं। एमएमआरडीए और मेट्रो के कार्य के चलते कई जगहों पर जल जमाव होने की संभावना बनी हुई हैं। नागरिकों को कोई परेशानी न हो, इसलिए संबंधित संस्थानों को बारिश के समय पुख्ता इंतजाम किए जाने के निर्देश दिए जाने की जानकारी प्रशासन ने इस दौरान दी।

इस मौके पर शिवसेना नेता व उद्योग मंत्री सुभाष देसाई, शिवसेना सचिव मिलिंद नार्वेकर, मनपा सदन नेता विशाखा राऊत, स्थायी समिति अध्यक्ष यशवंत जाधव, सुधार समिति अध्यक्ष सदानंद परब, सार्वजनिक स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष अमेय घोले, मनपा आयुक्त प्रवीण परदेशी के अलावा अतिरिक्त मनपा आयुक्त, सभी विभागप्रमुख आदि उपस्थित थे।